पांच साल के बच्चे की जानकारी पर हुआ मामले का खुलासा,

 बच्ची के शव को ठिकाने लगाने के प्रयास का आरोप

हरिद्वार। लापता बच्ची की तलाश में लगी पुलिस को क्षेत्र में रहने वाले 5 साल के बच्चे ने महत्वपूर्ण जानकारी दी की वह दीदी के साथ पड़ोस के मकान में रहने वाले अंकल के पास पतंग लेने गया था, अंकल ने दीदी को आधे घंटे बाद आने के लिए बोला था। बच्चे की इस जानकारी पर बच्ची की तलाश में ढूढने की नाटक कर रहे भांजे का पुलिस ने तुंरत हिरासत में ले लिया। जिसकी जानकारी पर पुलिस ने पूरे मकान पर सर्च अभियान चलाया गया। इस अभियान में आरोपी का मामा राजीव भी पुलिस व परिजनों के साथ था। बताया जा रहा हैं कि मकान के सभी हिस्सों को टटोलने के बाद दो मकान के ताले पडे देखे। बताया जा रहा हैं कि राजीव ने उनकी चांबी राम तीरथ यादव के पास होने की जानकारी दी गयी। पुलिस ने हिरासत में लिए गये भांजे से चांबी मांगकर कमरे खोलकर तलाशी लेनी शुरू की। आरोप हैं कि एक कमरे के बाथरूम को स्टोर के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा था। जहां पर एसपी सिटी, सीओ सिटी सहित अन्य अधिकारी तलाश में जुटे थे। बताया जा रहा हैं कि इसी दौरान स्टोर में कुछ गत्तों व समान के नीचे कुछ दबा होने का अहसास अधिकारियों को हुआ। आरोप हैं कि गोदाम मालिक राजीव ने पुलिस अधिकारियों को गुमराह करने का प्रयास किया कि यहां कुछ नहीं हैं। ये केवल स्टेचू है, मगर पुलिस अधिकारियों ने उसकी दलील का दरकिनार कर समान हटाया तो देख कर सभी सन्न रहे गये कि समान के बीच बच्ची का शव दबा था। बताया जा रहा हैं कि बच्ची का शव के हाथ पैर बांधे थे और मुंह पर टेप लगी थी। पुलिस अधिकारियों ने बच्ची के शव को बरामद करते हुए एसएसपी को सूचित कर दिया। सूचना पाकर एसएसपी सेंथिल अबुदेई कृष्णराज एस ने मौके पर पहुंचकर धटना स्थल का जायजा लिया। पुलिस अधिकारियों की इसी व्यवस्तता को देखकर गोदाम स्वामी राजीव मौके से फरार हो गया। परिजनों का आरोप हैं कि अगर पुलिस सक्रियता नहीं दिखाती और एक रात बीतने का इतंजार करती तो उनकी बच्ची के शव को ठिकाने लगा दिया जाता। पुलिस टीम ने गोदाम मालिक राजीव के नया हरिद्वार स्थित आवास पर छापा मारा, लेकिन मकान पर ताला लटका मिला। राजीव अपने परिवार के साथ फरार होने में कामयाब रहा। पुलिस की मौजूदगी में फरार होने को लेकर लोगों का गुस्सा पुलिस अधिकारियों को भी झेलना पड़ा। पुलिस फरार गोदाम मालिक की तलाश में सम्भावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। पुलिस का दावा हैं कि जल्द ही दूसरे आरोपी राजीव को गिरफ्रतार कर लिया जाएगा।