सिडकुल स्थित फैक्ट्री में हुई लूट का पुलिस ने किया खुलासा,

 कबाड़ी समेत दो गिरफ्रतार,लाखों की नकदी समेत चार क्विंटल से अधिक काॅपर बरामद

हरिद्वार। सिडकुल स्थित नीलगिरी इलेक्ट्रिकल्स कंपनी में हुई लूट का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक कबाड़ी समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। मेडिकल जांच के बाद दोनों को जेल भेज दिया है। आरोपियों के कब्जे से ढाई लाख की नकदी, तीन लाख रूपए से अधिक कीमत की साढ़े चार सौ किलोग्राम कापर की तार, लूट में प्रयुक्त बोलरो भी पुलिस ने बरामद की है। जबकि तीन आरोपी युवक पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। उनकी तलाश में पुलिस संबंधित ठिकानों पर दबिश दे रही है। एसएसपी ने आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम को ढाई हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है। सिडकुल थाने में पत्रकारों से वार्ता करते हुए सीओ सदर पूर्णिमा गर्ग ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 20 दिसंबर की रात सिडकुल की एक कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड को बंधक बनाकर लाखों रुपये के कॉपर लूट लिया गया था। फैक्ट्री मैनेजर डीएम त्रिपाठी की शिकायत पर पुलिस ने 23 दिसंबर को पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज कराया था। फैक्ट्री मैनेजर का आरोप था कि आरोपी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड को बंधक बनाकर कॉपर लूट कर ले गए थे। आरोपी युवक कंपनी में लगे सीसीटीवी कैमरे की हार्ड डिस्क भी चोरी कर ले गए थे।  पुलिस ने सोमवार सुबह सिडकुल की कंपनी के पास रोशनाबाद तिराहे से एक महिंद्रा बोलेरो पिकअप को रोककर चालक से पूछताछ की तो वह घबरा गया और गाड़ी छोड़कर भागने लगा। पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया। गाड़ी में रखा भारी मात्रा में कॉपर और नगद ढाई लाख रुपये भी बरामद किया है। पुलिस ने गाड़ी से मिले सामान और नगदी के बारे में कढ़ाई से पूछताछ में पता चला कि 20 दिसंबर की रात कंपनी में लूट उन्होंने ही की थी। पुलिस ने आरोपी युवक की निशानदेही पर ज्वालापुर में कबाड़ी को बेचा गया कॉपर भी बरामद कर लिया है। कबाड़ी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। सीओ सदर पूर्णिमा गर्ग ने बताया कि आरोपी युवक 20 दिसंबर की रात कंपनी के गेट पर पहुंचे थे। यहां गुपचुप तरीके से दीवार फांद कर कंपनी में दाखिल हुए। इस दौरान सिक्योरिटी गार्ड को अंदर घुसने की आहट हुई। सिक्योरिटी गार्ड कंपनी के अंदर पहुंचा तो आरोपियों ने सिक्योरिटी गार्ड के साथ मारपीट करते हुए बंधक बनाकर बाथरूम के अंदर बंद कर दिया और आसानी से पंद्रह सौ किलो कॉपर महिंद्रा पिकअप गाड़ी में भरकर निकल गए। आरोपी युवक ने पुलिस को बताया कि ज्वालापुर निवासी एक कबाड़ी को नगद 10 लाख रुपए में कॉपर बेच दिया था। सभी ने नगदी को आपस में बांट लिया था। उसके हिस्से में भी ढाई लाख रुपये आए थे।थाना प्रभारी एलएस बुटोला ने बताया कि शैलेश कुमार 26 वर्ष पुत्र उदय सिंह निवासी ग्राम परवलपुर थाना इस्लामपुर जिला नालंदा बिहार हाल हेतमपुर रोशनाबाद और कबाड़ी तनवीर 20 वर्ष पुत्र शौकत अली निवासी मोहल्ला पाई धोई थाना ज्वालापुर को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि कमल पुत्र नामालूम निवासी सीतापुर ज्वालापुर और अंकुश व मनोज पुत्रगण नामालूम निवासी मुजफ्फरनगर फरार हैं। पुलिस ने साढे चार सौ किलो कॉपर की तार, ढाई लाख नगद और लूट में प्रयुक्त बोलेरो पिकअप गाड़ी को बरामद कर लिया है। खुलासा करने वाली पुलिस टीम में थाना प्रभारी एलएस बुटोला, उप निरीक्षक राजेश कुमार, उप निरीक्षक प्रदीप रावत, उप निरीक्षक सोहन रावत, कांस्टेबल प्रेम सिंह, अनिल कुमार, सतीश नौटियाल, अरुण कैन्थुरा शामिल थे।