भूमिगत विधुत लाइन कार्यो में हो रहा भारी घोटाला-सुनील सेठी

 हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने भूमिगत विधुत लाइन कार्यो में घोटाले का आरोप लगाते हुए राज्यपाल को पत्र प्रेषित कर निष्पक्ष रूप स जांच कराने की मांग है। प्रैस को जारी बयान में सुनील सेठी ने बताया कि बीती रात लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क का निर्माण करते समय जरा सी लापरवाही के कारण भूमिगत लाइन का ट्रांसफार्मर सड़क पर आ गिरा। उसका कारण लापरवाही घटिया सामग्री से निर्माण है। घटिया सीमेंट, कच्ची ईंटो से तैयार ट्रांसफार्मर व पोल अभी से गिरने शुरू हो गए हैं। भविष्य में इससे भी बदतर हालत हो सकते हैं। एक तरफ ट्रांसफार्मर के पोल सड़को के किनारे लगाने की जगह सड़को पर अतिक्रमण कर लगा दिए गए। जिससे राहगीर चोटिल हांेगे। दूसरी तरफ घटिया सामग्री का उपयोग कर जनता की जान जोखिम में डालने का कार्य कार्यदायी संस्था द्वारा किया गया है। कार्यदायी संस्था ने बड़ा घोटाला किया है। जिसकी जांच होनी जरूरी है। एक तरफ कुंभ में विकास के नाम पर करोड़ो रूपये खर्च किये जा रहे है, दूसरी तरफ माॅनिटरिंग ओर संस्थाओं पर कोई अंकुश न होने की वजह से कई कार्यदायी संस्थाए लापरवाही ओर घटिया समाग्री प्रयोग कर जनता के पैसे को ठिकाने लगाने का कार्य कर रही है। ऐसे में अनियोजित विकास और घटिया समाग्री से हो रहे निर्माण से अच्छा तो कार्य होने ही नही चाहिए। जांच की मांग करने वालों में खड़खडेश्वर व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश सुखीजा, भूदेव शर्मा, धर्मपाल प्रजापति, रवि कुमार, गणेश शर्मा, ओमकार नाथ शर्मा, प्रीतम सिंह, सुभाष ठक्कर आदि भी शामिल रहे।