शहर की बिगड़ी सफाई व्यवस्था के लिए शहरी विकासमंत्री को बताया जिम्मेदार

 युवक कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं ने निगम परिसर में किया प्रदर्शन

हरिद्वार। युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अमरदीप रोशन और कार्यकारी जिलाध्यक्ष रवि बहादुर के नेतृत्व में कार्यकत्र्ताओं ने गुरुवार को नगर निगम में प्रदर्शन कर केआरएल के काम बंद करने के बाद शहर की पटरी से उतरी सफाई व्यवस्था ढर्रे पर लाने की मांग की। बिगड़े हालात के लिए नगर निगम प्रशासन और शहरी विकास मंत्री को जिम्मेदार ठहराया। शहर की सफाई व्यवस्था बिगड़ने के लिए शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक व नगर निगम प्रशासन पर आरोप लगाते हुए नगर निगम प्रांगण में धरना दिया। प्रदेश प्रवक्ता वरुण बालियान ने कहा कि केआरएल कंपनी से अनुबंध करने का निर्णय ही गलत था। पूर्व में भी क्षेत्र के निवासियों और जनप्रतिनिधियों ने केआरएल कंपनी से अनुबंध समाप्त करने की मांग की थी, लेकिन राजनैतिक स्वार्थ के चलते शहरी विकास मंत्री नगर निगम में किसी का भी हस्तक्षेप पसंद नहीं करते हैं। नतीजतन नगर निगम की व्यवस्थाएं चैपट हो रही हैं। अमरदीप रोशन और रवि बहादुर ने कहा कि सफाई व्यवस्था चैपट होने से संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है। आरोप लगाया कि नगर निगम प्रशासन मंत्री मदन कौशिक के दबाव में काम कर रहा है। शहर की सड़कें कूड़े से अटी हैं। घरों से निकलने वाला कूड़ा नहीं उठने से शहरी परेशान हैं। नगर निगम को सफाई व्यवस्था की कमान अपने कर्मचारियों को सौंपनी चाहिए। पुनीत कुमार और शाहबुद्दीन अंसारी ने कहा कि जनहित के मामले को लेकर भी मंत्री मदन कौशिक गंभीर नहीं है। कोरोना का दौर चल रहा है। संक्रमण फैलने की संभावनाएं बनी हुई हैं। वार्ड पार्षदों को अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अमन गर्ग, शाहनवाज कुरैशी, आकाश भाटी ने चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द समस्या का समाधान नहीं किया गया तो मंत्री मदन कौशिक और नगर निगम अधिकारियों का घेराव किया जाएगा। धरना-प्रदर्शन करने वालों में पार्षद राजीव भार्गव, नीलम शर्मा, विवेक भूषण विक्की, इम्मी इलमास, मोहित चैधरी, सुमित भाटिया, सोनू, सुनील कुमार, भूपेंद्र वशिष्ठ, आकाश कौशिक, दर्शन, अंकित त्यागी, भूरा, अंशुल पटेल समेत दर्जनों कार्यकत्र्ता शामिल रहे। 

Comments