संतों के साथ उपमेलाधिकारी ने किया पेशवाई मार्ग का निरीक्षण

 

हरिद्वार। कुंभ मेले की व्यवस्थाओं को लेकर श्री पंचायती अखाड़ा निर्मल के संत महापुरूषों के साथ उपमेला अधिकारी दयानंद सरस्वती व कुंभ मेला तहसीलदार मंजीत सिंह ने मेला प्रशासन के अधिकारियों के साथ अखाड़े की एक्कड़ कलां शाखा से निर्मला छावनी तक पेशवाई मार्ग का निरीक्षण किया। इस दौरान निर्मल अखाड़े के कोठारी महंत जसविन्दर सिंह महाराज ने कहा कि छह अप्रैल को अखाड़े के संतों के सानिध्य में भव्य रूप से एक्कड़ कलां से निर्मला छावनी तक पेशवाई निकाली जाएगी। जिसके बाद आठ अप्रैल को अखाड़े की धर्मध्वजा फहरायी जाएगी। उन्होंने कहा कि अखाड़े की पेशवाई एक्कड़ कलां से शुरू होकर बाजारों से लंबी दूरी तय कर निर्मला छावनी पहुंचेंगी। एक्कड़ कलां से निर्मला छावनी तक मार्ग की दूरी अधिक होने के कारण मेला प्रशासन को पेशवाई मार्ग की व्यवस्थाओं को तेजी के साथ लागू करना चाहिए। एक्कड़ कलां शाखा के महंत अमनदीप सिंह महाराज ने कहा कि कुंभ मेले के दौरान बड़ी संख्या में बाहर से संत महापुरूष हरिद्वार आगमन करते हैं। मेला प्रशासन पेशवाई मार्ग के साथ साथ कुंभ क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मार्गो को भी जल्द से जल्द दुरूस्त करे। ग्राम एक्कड़ कलां शाखा में सफाई कर्मचारियों की तैनाती की जाए। अखाड़े के पेशवाई मार्ग पर ग्राम सराय में आबादी क्षेत्र में बनाए गए कूड़ा डंपिंग यार्ड को हटाया जाए। पेशवाई में शामिल होने वाले संतों की सुविधा को देखते हुए कूड़ा डंपिंग यार्ड तत्काल हटाया जाना चाहिए। उपमेला अधिकारी दयानन्द सरस्वती ने कहा कि पेशवाई मार्ग के सौन्दर्यकरण सहित अन्य व्यवस्थाओं को समय रहते पूरा कर लिया जाएगा। कुंभ मेले में पेशवाई के दौरान संत महापुरूषों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जाएगी। इस दौरान महंत बाबू सिंह, महंत खेमसिंह, संत जनरैल सिंह, महंत निर्मल सिंह, संत सुखमन सिंह, संत तलविन्दर सिंह, संत जसकरण सिंह, दीपक सिंह, विकास शर्मा, दिनेश उनियाल आदि मौजूद रहे।