किसान कांग्रेस ने की कृषि कानून को वापस लेने की मांग

 हरिद्वार। किसान कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष दिनेश वालिया ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा किसानों के लिए तीन नये काले कानून बनाना या उन पर थोपना बेहद गलत है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों पर ये कानून लगाकर कोई बड़ा षड़यंत्र रचना चाहती है जोकि बेहद ही निंदनीय है। किसान कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष दिनेश वालिया ने प्रैस को जारी बयान में किसानों पर केंद्र सरकार थोपे जा रहे काले कानून के विरोध में कडे शब्दों में निंदा करते हुए इस कानून को वापस लेने की मांग की है। दिनेश वालिया ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों को बर्बाद करने का काम कर रही है। इस कानून के लागू होने से देश का किसान बदहाली की ओर चला जाएगा। ये कानून किसानों को आत्महत्या करने पर मजबूर कर रहा हैं। दिनेश वालिया ने कहा कि आज पूरा देश किसानों के साथ खड़ा हुआ है। इस काले कानून के विरोध में सभी राष्ट्रीय दल व प्रतिनिधि एकजुट हो कर इस काले कानून का विरोध कर रहे हैं। लेकिन केंद्र में बैठी बहरी गूंगी सरकार किसानों का दर्द नहीं समझ पा रही है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार को इस काले कानून हो वापस लेना होगा। किसानों द्वारा शांतिपूर्वक धरना व आंदोलन किया जा रहा है। लेकिन केंद्र सरकार किसानों के खिलाफ कोई बड़ा षड्यंत्र रचने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की हठघर्मी नहीं चलेगी। देश का किसान इस काले कानून खिलाफ एकजुट हो चुका है। दिनेश वालिया ने देश के अन्नदाता के साथ हो रहे बर्ताव की घोर निंदा करते हुए कहा कि किसान कांग्रेस कमेटी इस जंग में पूरी तरह किसानों के साथ हैं।