पीठ बाजार में बाहरी जनपदों के लघु व्यापारियों द्वारा दुकान लगाने का किया विरोध

 

हरिद्वार। पीठ बाजार सामान्य व्यापारी विकास समिति के बैनर तले भेल सेक्टर वन के पीठ बाजार लघु व्यापारियों ने बाहरी जनपदों से दुकाने लगाने वाले लघु व्यापारियों का विरोध किया। पीठ बाजार व्यवसायियों का आरोप है कि बाहरी जनपद के व्यापारी स्थानीय व्यापारियों के साथ मारपिटाई व गालीगलौच कर रहे हैं। भेल सम्पदा विभाग को बाहरी जनपदों से पीठ बाजार में दुकानें लगा रहे असामाजिक तत्वों पर रोक लगाने की मांग की। अध्यक्ष ओमप्रकाश ने कहा कि भेल सेक्टर वन पीठ बाजार में वर्षो से दुकानें लगा रहे व्यापारियों से बाहरी जनपदों के व्यापारी मारपिटाई गालीगलौच कर रहे हैं। पीठ का दायरा बढ़ाया जा रहा है। पीठ लगने वाले स्थान के बाहर दुकानें लगायी जा रही हैं। जिससे स्थानीय व्यापारियों को सामान लाने ले जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। भेल सम्पदा विभाग को वेंडर लाईसेंस लागू कर स्थानीय व्यापारियों को सुविधाएं प्रदान की जाएं। आठ सौ दुकानदार पूर्व से ही भेल पीठ बाजार में दुकानें लगाते चले आ रहे हैं। मास्टर रामपाल व भगत सिंह ने कहा कि भेल सम्पदा विभाग को व्यापारियों का चयन कर दुकानें लगाने की अनुमति स्थानीय व्यापारियों को ही देनी चाहिए। काफी अर्से से फल, सब्जी, आलू, प्याज, कपड़े, जूते के अलावा चाट पकौड़ी की दुकानें लगाकर अपने परिवारों का लालन पालन कर रहे पीठ बाजार के स्थानीय व्यापारियों को बाहरी जनपदों से आ रहे व्यापारियों से दिक्कतें पेश आ रही हैं। उन्होंने मांग की कि इन लघु व्यापारियों का सत्यापन भी किया जाए। क्योंकि कुछ असामाजिक तत्व दुकानें लगाकर स्थानीय व्यापारियों से लड़ाई झगड़े पर उतारू रहते हैं। सड़कों पर दुकानें लगायी जा रही हैं। जिससे ग्राहकों का भी परेशानी होती है। वेंडर लाईसेंस की प्रक्रिया को अतिशीघ्र लागू किया जाना चाहिए। रोष जताने वाले लघु व्यापारियों में रविन्द्र व राजकुमार बबलू शर्मा, कृष्णा, नामदेव, राजकुमार, भगत सिंह, मास्टर रामपाल, बबलू शर्मा, ऋषिपाल, राहुल कश्यप, सौरभ, मनोज पाल, राजीव गौतम, सुनील, राजेंद्र नामदेव, बबलू, प्रदीप नामदेव, ओमप्रकाश, अंशुल, सुन्दरलाल, अमित कुमार, जयकुमार आदि शामिल रहे।