अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों संग मेला प्रशासन के अधिकारियों ने किया कुंभ कार्यों का निरीक्षण

हरिद्वार। कुंभ मेला 2021 को भव्य एवं दिव्य बनाने के लिए मेला प्रशासन दिन रात जुटा हुआ है। मंगलवार को मेला अधिकारी दीपक रावत, अपर मेलाधिकारी हरवीर सिंह,ललित नारायण मिश्र सहित मेला प्रशासन के अधिकारियों एवं अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि महाराज एवं महामंत्री हरि गिरि महाराज ने संतो के साथ सभी अखाड़ों में जाकर कुम्भ कार्यो का निरीक्षण किया। इस मौके पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महेंद्र नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा है कि आज अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों एवं मेला प्रशासन के अधिकारियों के साथ अखाड़ों में चल रहे कुंभ कार्यों का निरीक्षण किया गया है ,सभी अखाड़ों की समस्या भी सुनी है अब विधिवत तरीके से मेला संपन्न होगा, मेला क्षेत्र में टेंट भी लगेंगे और जमीनों का अलॉटमेंट भी किया जाएगा जिसको लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत से फोन पर बातचीत हुई है उन्होंने कहा है कि 2021 का कुंभ मेला दिव्य और भव्य होगा। कुम्भ मेले के निर्माण कार्य की धीमी गति पर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि वे कुम्भ कार्यों की गति से संतुष्ट नहीं है लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई है कि मेला शुरू होने से पहले कार्य पूरे हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से होम कोरंटिन है उनसे फोन पर बात हुई है और मैंने उनसे आग्रह किया है कि वे मेला अधिकारी को निर्देशित करें कि वह संतो को मेला क्षेत्र में भूमि का आवंटन शुरू कर दें साथ ही उन्होंने कहा कि 25 तारीख को अखाड़ा परिषद की बैठक भी आयोजित की जाएगी। अखाड़ा परिषद के महामंत्री हरिगिरि महाराज ने कहा कि हम आशावादी हैं ना कि निराशावादी, इस बार का कुंभ उम्मीदों से अच्छा, दिव्य और भव्य रूप से आयोजित किया जाएगा। कुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत ने आईजी मेला संजय गुंज्याल के साथ कुंभ मेला क्षेत्र एवं अखाड़ों में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लेने पहले मायापुर स्थित श्रीपंचायती निरंजनी अखाड़े में पहुंचे। यहां उन्होंने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महंत नरेंद्र गिरि महाराज, श्री पंचायती निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रवींद्र पुरी महाराज, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री एवं श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरि गिरी महाराज से मुलाकात की। कुंभ कार्यों व अखाड़ों की समस्या पर चर्चा की। इसके बाद इन संतजनों के साथ कुंभ मेलाधिकारी दीपक रावत व आईजी कुंभ अग्नि अखाड़ा, आह्वान अखाड़ा, निर्मल अखाड़ा की छावनी का निरीक्षण कर पेयजल, विद्युत, शौचालय आदि से संबंधित जानकारी लेकर समस्याओं को दूर करने का निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया। इसी क्रम में उन्होंने श्री जूना अखाड़े का भी भ्रमण किया। इस दौरान कुंभ एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी, महंत जसविंदर सिंह कोठारिया, महंत बाबू सिंह सहित, श्रीपंचायती निर्मल अखाड़ा,अग्नि अखाड़ा ,आह्वान  अखाड़ा आदि के संत भी उपस्थित रहे।