ड्रग्स इंस्पेक्टर ने विभिन्न निजी अस्पतालों,दवा दुकानों पर की छापेमारी

 हरिद्वार। ड्रग इंस्पेक्टर ने हरिद्वार सहित बहादराबाद के कई अस्पतालों और मेडिकल स्टोरों पर छापेमारी की। इस दौरान कई मेडिकल स्टोरों पर अनियमिताएं मिली। एक मेडिकल स्टोर से दवाइयां कब्जे में ली जबकि एक स्टोर पर ताला लगा दिया। इस बीच कई मेडिकल स्टोर संचालक शटर बंद कर इधर-उधर खिसक लिए। कई मेडिकल स्टोरों पर नशीली दवाइयां बेचे जाने की शिकायत स्वास्थ्य विभाग को मिल रही थी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी के निर्देश  पर ड्रग इंस्पेक्टर डॉ. अनिता भारती ने अपनी टीम के साथ नया हरिद्वार स्थित मातृ छाया, देवभूमि अस्पताल और आशीर्वाद और त्वचा क्लीनिक का औचक निरीक्षण किया। इसके साथ क्षेत्र के दो मेडिकल स्टोर भी चेक किए। सभी जगह मेडिकल स्टोर के कागजों, अनुमति के साथ वही व्यक्ति दवा बेचता मिला। लेकिन मातृ छाया अस्पताल में लाइसेंस धारक की जगह कोई अन्य व्यक्ति दवा बेचता पाया गया। पूछताछ में पता चला कि संचालक को कोविड हुआ है जिस वजह से वह स्टोर पर नहीं बैठ रहा, लेकिन बड़ी बात यह कि किसी और को बैठाने की कोई सूचना संचालक द्वारा दवा निरीक्षक कार्यालय को नहीं दी गई थी। विभाग मेडिकल स्टोर संचालक को नोटिस भेजने की तैयारी कर रहा है। ड्रग इंस्पेक्टर ने कहा कि औचक निरीक्षण लगातार जारी रहेगा। वहीं ड्रग इंस्पेक्टर ने रावली महदूद और शिवालिक नगर समेत दस से अधिक मेडिकल स्टोर के निरीक्षण में भारी अनियमितताएं पकड़ीं। एक मेडिकल स्टोर की दवाइयां गाड़ी में भर ली और एक मेडिकल स्टोर पर ताला लगा दिया। मेडिकल संचालक अपने दस्तावेज नहीं दिखा पाया। जबकि आसपास वाले मेडिकल स्टोर शटर गिराकर इधर-उधर निकल गए। ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि जिन दुकानों पर फार्मासिस्ट नहीं मीले उनके प्रमाणपत्र मांगे गए हैं।