राष्ट्रपति को ज्ञापन देकर की वेब सीरीज ताण्डव के प्रसारण पर रोक की मांग

 

हरिद्वार। श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित कर वेब सीरीज ताण्डव के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग की है। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि वेब सीरीज में सनातन धर्म व हिंदू देवी देवताओं का अपमान किया गया है। जिससे सनातन धर्म के अनुयायियों की भावनाओं को गहरा आघात लगा है। इसके पूर्व आयी एक अन्य वेब सीरीज आश्रम में भी सनातन धर्म में हिंदुओं की धार्मिक आस्थाओं को ठेस पहुंचायी गयी थी। इस तरह के कृत्यों को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पंडित अधीर कौशिक ने एक सोची समझी नीयत के तहत समाज को बांटने की कोशिक की जा रही है। शिक्षित व बुद्धिजीवी फिल्म निर्माता समाज में वैमनस्य फैलाने के लिए इस तरह की फिल्में बनाकर प्रसारित कर रहे हैं। वेब सीरीज ताण्डव में प्रधानमंत्री पद व सेना के प्रति भी अशोभनीय व अपमानित करने वाली भाषा का प्रयोग किया गया है। लगातार आ रही वेबसीरीज में जिस प्रकार अमर्यादित भाषा, आचरण, नग्नता का प्रयोग किया जा रहा है। जिससे युवा पीढ़ी में संस्कारहीनता बढ़ रही है। जिसके परिणाम स्वरूप माॅब लिंचिंग, अपहरण, नाबालिग बच्चियों व युवतियों के यौन शोषण, बलात्कार व हत्या जैसे अपराध बढ़ रहे हैं। इस तरह की वेबसीरीज पर रोक लगाने के सशक्त बनाया जाए। विनोद मिश्रा व आचार्य पंडित विष्णु शर्मा ने कहा कि सनातन धर्म को अपमानित करने वाली वेब सीरीज को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में पवनकृष्ण शास्त्री, राजेंद्र बालियान, अश्विनी सैनी, सुनील प्रजापति, दीपक शर्मा आदि शामिल रहे। 

तांडव फिल्म बनाने वाले को कड़ी सजा मिले-साध्वी प्राची
हरिद्वार। तांडव फिल्म का विरोध थमने का नाम नही ले रहा है एक दिन पूर्व हरिद्वार के संतों ने इसका विरोध किया था तो अब विहिप की फायर ब्रांड नेत्री साध्वी प्राची ने हिन्दू देवी देवताओं का मजाक उड़ाने वाली वेब सीरीज बनाने वालों को कड़ी से कड़ी सजा की मांग की है।मंगलवार को हरिद्वार पहुँची विश्व हिंदू परिषद की तेज तर्रार नेत्री साध्वी प्राची ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि भारत मे हिन्दू बहुसंख्यक है फिर भी हिन्दू देवी देवताओं का मजाक उड़ाना आज एक फैसन सा हो गया है। उन्होंने तांडव फिल्म पर बोलते हुए कहा कि वेब सीरीज बनाने वालों में अगर हिम्मत है तो गैर हिंदूओ पर भी फिल्म बना कर दिखाए। उन्होंने सरकार से मांग की ऐसी विवादित फिल्म बनाने वालों के खिलाफ रासुका लगनी चाहिए और इन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

Comments