व्यापारियों ने कुंभ में कोरोना रिपोर्ट की बाध्यता को खत्म करने की मांग

 

हरिद्वार। प्रदेश व्यापार मंडल से जुड़े व्यापारियों ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजा है। व्यापारियों ने कुंभ में कोरोना रिपोर्ट की बाध्यता को खत्म करने की मांग उठाई। इसके साथ ही कुंभ का तत्काल नोटिफिकेशन जारी करने, लॉकडाउन काल के बिजली-पानी के बिल और स्कूल फीस माफी, व्यापारियों के खातों में एक-एक लाख की आर्थिक सहायता भेजने की मांग की। प्रदेश अध्यक्ष संजीव चैधरी ने कहा कि हरिद्वार में बड़ी राजनीतिक पार्टियों के बड़े नेताओं के आने के दौरान हजारों लोग बिना मास्क के एकत्र हो जाते हैं। देश में बड़ी राजनीतिक रैलियां निकाली जा रही हैं। लेकिन उस वक्त कोरोना की कोई रिपोर्ट नहीं मांगी जाती है। लेकिन हरिद्वार में स्नान होता है तो कोरोना संक्रमण की याद आ जाती है। कहा कि कुंभ में कोरोना की बाध्यता नहीं होनी चाहिए। कुम्भ का नोटिफिकेशन न होने से यह संदेश जा रहा है कि हरिद्वार में कुंभ नहीं हो रहा है। इसलिए यात्री हरिद्वार नहीं आ रहा है। इसलिए तत्काल कुंभ का नोटिफिकेशन किया जाए। जिससे आस्था और व्यापार दोनों ठीक से चल सके। शिवालिक नगर शहर अध्यक्ष विभास सिन्हा व व्यापारी नेता संजीव कुमार ने कहा कि लॉकडाउन काल के बिजली-पानी के बिल और स्कूल की फीस माफ की जानी चाहिए। ज्ञापन भेजने वालों में व्यापारी नेता पुष्पेंद्र गुप्ता, जगदीप भारद्वाज, विपिन, अरविन्द कुमार, ऋषभ आदि शामिल रहे।


Comments