व्यापारियों के खिलाफ दर्ज मुकदमें को वापस नही लेने पर आंदोलन की चेतावनी

 हरिद्वार। नगर व्यापार मण्डल के अध्यक्ष जतिन हांडा ने आरोप लगाया है कि व्यापारियों की आवाज को दबाया जा रहा है। गीता मंदिर में आयोजित व्यापार मण्डल की बैठक को संबोधित करते हुए जतिन हांडा ने कहा कि व्यापारी वर्ग सितंबर 2019 से ही आर्थिक मंदी झेल रहा है। लाॅकडाउन के बाद व्यापारियों को कुम्भ आयोजन से व्यापार पटरी पर लौटने की उम्मीद थी। लेकिन सरकार ने अब तक कुम्भ का नोटिफिकेशन जारी नहीं किया।  जिसके विरोध में व्यापारियों ने शांतिपूर्ण तरीके से मकर सक्रांति का स्नान कर देश दुनिया को कुंभ शुरू होने का संदेश देने का प्रयास किया। लेकिन सरकार ने व्यापारियों के खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज कर दिए। सरकार व प्रशासन व्यापारियों कि आवाज को दबा रहे हैं। जिसका नगर व्यापार मण्डल विरोध करता है। यदि व्यापारियों पर दर्ज मुकदमे वापस नहीं लिए गए ता व्यापारी वर्ग आंदोलन को करने को मजबूर होगा। राजकुमार ठाकुर ने कहा कि कोरोना काल में व्यापारियों को किसी भी प्रकार की आर्थिक मदद सरकार द्वारा नहीं दी गई। अब महाकुम्भ से व्यापारियों को थोड़ी सी आस जगी थी। लेकिन सरकार अभी तक कुंभ का नोटिफिकेशन ही जारी नहीं किया गया। उल्टे व्यापारियों पर मुकदमे दर्ज कर मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है। इस अवसर पर दिनेश धीमान, हेमन्त, जोगेंद्र मेहता, माधव चंदोक, अनिल ठाकुर, मनोज वर्मा, मोनू, संजय चावला, सुधीर आदि व्यापारी मौजूद रहे।


Comments