पाॅलिथिन मुक्त शहर बनाने के लिए जन जागरूकता पद यात्रा निकाली

 हरिद्वार। भारतीय जागरूकता समिति द्वारा माँ गंगा को जीवित दर्जा देने एवं तीर्थनगरी को पाॅलीथिन मुक्त बनाने के लिए लोगों में जागरूकता लाने हेतु जन जागरूकता पद यात्रा का आयोजन किया गया। समिति के अध्यक्ष एवं अधिवक्ता ललित मिगलानी ने कहा की न्यायालय व सरकार के आदेशों के बावजूद भी पाॅलीथीन के प्रयोग पर प्रतिबंध नहीं लग पा रहा है। हरिद्वार कुंभ क्षेत्र में प्लास्टिक को बैन करने के लिए प्रशासन को व्यापक प्रचार प्रसार किया जाना चाहिये। इसके साथ ही माँ गंगा और गलेशियर को जीवित व्यक्ति का दर्जा देना चाहिये। इस कुम्भ में ये एक सच्चा उपहार होगा सरकार को इसके लिए तुरंत कदम उठाने चाहिये। अध्यात्म चेतना संघ के आचार्य करुणेश मिश्र ने कहा माँ गंगा को स्वछ रखना सब का धर्म एवं कर्तव्य है। जिसके लिए सबको एकजुट होकर काम करना होगा। रूपम जोहरी ने कहा की प्लास्टिक वातावरण के लिए जहर है। इसके उपयोग पर पूर्ण रूप से बैन होना चाहिये। अर्पिता सक्सेना ने कहा माँ गंगा को स्वछ रखने के लिए हमें व्यक्तिगत रूप से जिमेदारी लेनी चाहिये। स्पर्श गंगा की रेनू रावत ने कहा की समाज में गंगा को स्वच्छ रखने के लिए हर व्यक्ति को अपने स्तर पर लोगो को जागरूक करना चाहिए।  विनायक गोड़ एवं आशु चैधरी ने कहा की हमें हर संभव प्रयास करने चाहिये। जिससे समाज में प्लास्टिक का उपयोग खत्म हो सके। पद यात्रा को अध्यात्म चेतना संघ, स्पश गंगा, ओम आरोग्य संघ, मुस्कान फाउन्डेशन आदि ने अपना समर्थन दिया। पद यात्रा में अर्पिता सक्सेना, नेहा मलिक, कमला जोशी, रूपम जोहरी, अर्चना शर्मा, देवेन्द्र चावला, पुनीत कुमार, यश लालवानी, सिधार्थ प्रधान, विजेंद्र पालीवाल, पी.के.श्रीवास्तव, विपुल शर्मा, विनीत चैहान, अंजलि महेश्वरी, आशु चैधरी, नितिन गौतम, यश लालवानी, अंशु तोमर, दीपाली शर्मा, अर्चना शर्मा, विनीता गोनीयल, रीता चमोली, गरिमा शर्मा, शुभम, विजेंद्र पालीवाल, दीपाली शर्मा, अर्चना लोहनी, पुनम भाजपाई, हिमांशु चोपड़ा, मोहित भरद्वाज, वर्षा श्रीवास्तव, भूपेश चन्द्र पांडे, विपुल कुमार गोय, कमल कुरुक्षेत्र, पंडित विशाल शर्मा, नेहा मलिक, करुणा शर्मा, नीरू जैन, मंजुला भगत, दीपाली जैन, गरिमा कुमार, रानी सिंह, रूपम जोहरी, योगी रजनीश, रानी, पंकज, ममता, चंद्रकला आदि ने प्रतिभाग किया।


Comments