कानून व्यवस्था बेहतर करने के साथ पुलिस को संवेदनशील बनाना प्राथमिकता-डीजीपी

 पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने से पहले जांच कराने का आश्वासन


हरिद्वार। प्रदेश पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि राज्य में न्याय पर आधारित पुलिसिंग को बढ़ावा दिया जाएगा। कानून व्यवस्था की बेहतरी के साथ-साथ पुलिस को संवेदनशील बनाने पर उनका फोकस रहेगा। कुंभ मेले को सकुशल संपन्न कराने को अपनी प्राथमिकता बताते हुए उन्होंने कहा कि अभी यह तय नहीं है कि कुंभ मेले का स्वरूप कैसा होगा। लेकिन पुलिस हर चुनौती से निपटने को तैयार है। उन्होंने जनता के साथ-साथ मीडिया कर्मियों से भी कुंभ मेला सकुशल संपन्न कराने में सहयोग की अपील की। शुक्रवार को हरिद्वार प्रैस क्लब में आयोजित संवाद कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने अपनी भावी कार्य योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड पुलिस मित्रता सेवा और सुरक्षा के अपने संकल्प के अनुरूप बेहतर कार्य कर रही है। राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति और बेहतर हो इसके लिए लगातार प्रयास जारी हैं। उनका प्रयास रहेगा की पुलिस का पूरा फोकस पीड़ित को इंसाफ दिलाने पर केंद्रित रहे। उन्होंने कहा कि धनवान लोगों को तो इंसाफ मिल ही जाता है। लेकिन असहाय और गरीब लोगों को अपनी कार्यप्रणाली के केंद्र में रखते हुए पुलिस काम करे। इसके लिए वह मुख्य रूप से काम करेंगे। सभी अधिकारियों को बता दिया गया है कि जनता से संवाद रखें और पुलिस की गरिमा के अनुरूप कार्य करें। उन्होंने पुलिस कर्मियों की परेशानियों पर चर्चा करते हुए कहा कि पुलिस पर काम का दबाव ज्यादा रहता है। ऐसे में उनकी अपनी भी समस्याएं होती हैं। इन समस्याओं को ध्यान में रखते हुए काम का बोझ कम करने की दिशा में भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा रहे हैं। हरिद्वार कुंभ की चर्चा करते हुए डीजीपी ने कहा कि इस वर्ष होने वाला कुंभ अन्य कुंभ मेलों की तुलना में अलग है। क्योंकि कोरोना ने व्यवस्थाओं को काफी हद तक प्रभावित किया है। अभी यह तय होना बाकी है कि कुंभ का स्वरूप क्या होगा। लेकिन कुंभ को लेकर सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। मकर सक्रांति के पर्व को उन्होंने मुख्य स्नान पर्वों का पूर्वाभ्यास बताया। हरिद्वार सहित विभिन्न जनपदों में तैनाती के दौरान अपनी कार्यप्रणाली से जुड़े कई अनुभव भी उन्होंने साझा किए तथा पत्रकारों से भी सहयोग की अपील की। प्रैस क्लब अध्यक्ष दीपक नौटियाल ने स्वागत संबोधन के साथ ही एक ज्ञापन देकर पुलिस महानिदेशक से मांग की कि पत्रकारों के खिलाफ आने वाली शिकायतों में मुकदमा दर्ज करने से पहले राजपत्रित स्तर के अधिकारी से शिकायत की जांच कराई जाए। जिस पर पुलिस महानिदेशक ने सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिलाया। क्लब के वरिष्ठ सदस्य कौशल सिखोला को उनकी सक्रिय पत्रकारिता की 50 वर्ष की यात्रा पूरी होने पर प्रैस क्लब की ओर से सम्मानित किया गया। महामंत्री धर्मेंद्र चैधरी के संचालन में संपन्न हुए कार्यक्रम में पूर्व अध्यक्ष राजेश शर्मा ने पुलिस महानिदेशक के संबंध में उनकी उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार और कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल को स्मृति चिन्ह देकर तथा शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। इस दौरान आदेश त्यागी, रजनीकांत शुक्ला, सरदार रघुवीर सिंह, बृजेंद्र हर्ष, गोपाल सिंह रावत, त्रिलोक चंद भट्ट, रतनमणि डोभाल, डा.हिमांशु द्विवेदी, सुभाष कपिल, अनूप सिंह, गुलशन नैय्यर, प्रशांत शर्मा, मेहताब आलम, श्रवण कुमार झा, राहुल वर्मा, सूर्यकांत बेलवाल, सुदेश आर्य, बालकृष्ण शर्मा, अमित शर्मा, अमित गुप्ता, राजकुमार, विकास चैहान, सुनील पाल, रोहित सिखौला, कुलभूषण शर्मा, मुदित अग्रवाल, रामचंद्र कन्नौजिया, राधिका नागरथ, अवधेश शिवपुरी, राजेंद्र नाथ गोस्वामी, मनोज खन्ना, एसके अरोड़ा, राजीव तुंबड़िया, केके पालीवाल, रूपेश वालिया, मयूर सैनी, संदीप शर्मा, आशीष मिश्रा, संदीप रावत, प्रवीण झा, डीएस वर्मा, तनवीर अली, जयपाल सिंह, अमित शर्मा, मुकेश वर्मा, मनोज सोही, नरेश दीवान शैली, नवीन चैहान, रामेश्वर गौड़, महावीर नेगी समेत बड़ी संख्या में पत्रकार शामिल रहे। इस दौरान डीआईजीगढ़वाल परिक्षेत्र नीरू गर्ग, कुंभ मेला एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूरी, एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस, एसपी आयुष अग्रवाल, स्वपन किशोर सिंह सहित बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। 


Comments