डा0 आईएम. सिंघल बने उत्तराखण्ड आर्थोपैडिक एसोसियेशन के अध्यक्ष

 

हरिद्वार।इंडियन आर्थोपैडिक एसोसिएशन के स्टेट चैप्टर उत्तराखंड आर्थोपैडिक एसोसिएशन (यूओए) द्वारा एक दिवसीय‘आर्थो मीट- 2021’का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पद्मश्री डा0 बीकेएस संजय ने कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्वलन कर किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए डाॅक्टर संजय ने कहा कि आर्थो मीट का उद्देश्य आर्थोपैडिक्स के क्षेत्र में आने वाली चुनौतियों को पहचानकर कर उनका वैज्ञानिक तरीके से निदान प्रस्तुत करना है। उन्होंने कहा कि विश्व स्तर पर आर्थोपैडिक्स के क्षेत्र में नित नए विकास हो रहे हैं जिनका लाभ हमें व मरीजों तक पहुंचाना है। सहभागिता के रूप में काम करने के लिए उन्होंने सभी आर्थोपैडिक सर्जन की सराहना की। सम्मेलन में भेल के मुख्य चिकित्सालय में कार्यरत अस्थि रोग विभाग के विभागाध्यक्ष डा0 आईएम. सिंघल को यूओए का नया अध्यक्ष चुना गया। भेल हरिद्वार के लिए यह गौरव की बात है कि संस्थान के किसी आर्थोपैडिक सर्जन को पहली बार प्रतिष्ठित संस्था के अध्यक्ष पद हेतु चुना गया है। यूओए के पूर्व अध्यक्ष डा. त्रिभुवन अग्रवाल द्वारा उन्हें मैडेल पहनाकर सम्मानित भी किया गया । डा0 आईएम सिंघल ने कहा कि यह चिकित्सकों का सौभाग्य है कि ईश्वर ने हमें लोगों के कष्टों को दूर करने के लिए चुना है। उन्होंने कहा कि हमें आर्थोपैडिक्स के पोस्ट ग्रेजुएटविद्यार्थियोंके ट्रेनिंग मॉडयूल्स में भी और ज्यादा आधुनिक तकनीकों का समावेश करना होगा। इस अवसर पर यूओए तथा इसके हरिद्वार चैप्टर के अनेक पदाधिकारीएवं उत्तराखंड, हरियाणा और दिल्ली एनसीआर के अनेक जाने-माने वरिष्ठ अस्थि रोग विशेषज्ञ आदि उपस्थित थे । 


Comments