कुम्भ मेले दृष्टिगत अग्निशमन विभाग की तैयारियाॅ तेज,लगातार जारी है मुआयना

हरिद्वार। कुम्भ मेले के दौरान आगजनी की घटना को रोकने के लिए अग्निशमन विभाग भी चाक-चैबंद सुरक्षा व्यवस्था मे जुटा हुआ है। जिलाधिकारी सी रविशंकर के निर्देश पर मुख्य अग्निशमन अधिकारी  एन एस कुंवर लगातार  संवदेन एवं अति संवदेनशील भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों के अलावा सभी प्रमुख स्थानों के साथ ही तमात होटलों,धर्मशालाओं , मठ मन्दिरों में जाकर मौके का मुआयना कर तैयारियों को परख रहे है। मुख्य अग्निशमन अधिकारी नरेन्द्र सिंह.कुवंर ने अखाड़ों में लगने वाली छावनियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर अधिनस्थों को निर्देश के साथ साथ समीक्षा कर रहे है। उनका कहना है कि चूंिक गर्मी सीजन की शुरूआत हो रही है और बड़ी संख्या में टेंट लगाये जा रहे है, हर तरफ बड़ी संख्या में लोगों के रहने की संभावना के दृष्टिगत विभाग सुरक्षा को लेकर कोई कोताही नही बरतना चाहता। मुख्य अग्निशमन अधिकारी के निर्देश पर जहां अग्नि शमन अधिकारी एस.पी.नेगी लगातार व्यस्तम क्षेत्रों के अलावा उन मठ मन्दिरों में जाकर पहले ही लगे एस्टिंगयूशर यानि अग्निशमन यंत्रों की जाॅच-परख कर आवश्यक सुझाव दे रहे है। वही सभी होटल संचालको,धर्मशाला प्रबधंको,अखाड़ो,आश्रमों को आग से सुरक्षा के उपाय के सम्बन्ध में सुझाव दिए जा रहे है। कुम्भ मेले के दौरान किसी प्रकार की अनहोनी न हो,इसके लिए लगातार जरूरी कदम उठाये जा रहे है। अग्निशमन अधिकारी एस.पी.नेगी ने प्रसिद्व मंशा देवी मन्दिर पहुचकर परिसर में लगे एक दर्जन से अधिक एस्टिंगयूशर स्लेंडर में प्रेशर तथा उपयुक्त स्थानों पर लगे होने की जाॅच की। और मंदिर में कार्यरत कर्मचरियों को आग लगने के बाद स्लेंडर को इस्तेमाल करने का तरीका भी बताया।इस दौरान उनके साथ अग्निशमन काॅस्टेबल सुरेन्द्र रावत ने कुछ दुकानों में भी जाकर स्थिति का मुआयना करने के अलावा अग्निशमन यंत्र लगाने के सुझाव दिए।


Comments