मुख्य स्नानों पर अगर दुकानें बंद रखने का निर्णय व्यापारी हितों पर कुठाराघात- सुनील सेठी

हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने मुख्य स्नानों पर दुकानें बंद रखे जाने के सरकारी निर्देश पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार का यह निर्णय व्यापारी हितों पर कुठाराघात है। व्यापारियों की बैठक को संबोधित करते सुनील सेठी ने कहा कि कुंभ को लेकर बार-बार दिशा निर्देश जारी होने से व्यापारियों, स्थानीय आमजनमानस तथा श्रद्धालुओं में भारी असमंजस की स्थिति है। नित नए आदेशों से व्यपारियों का उत्पीड़न हो रहा है। सरकार की मंशा शुरू से ही कुंभ को लेकर विचारणीय रही है। जिससे व्यापारी हताश ओर निराश है। अब मुख्य स्नानों पर बाजार बंद रखने की नई गाइडलाइन से व्यापारी परेशान हैं। अगर सरकार हरिद्वार के व्यापारियों के साथ ऐसा ही करना चाहती है तो सरकार को व्यापारियों को मुआवजा देना चाहिए। समय समय पर सरकार को टैक्स देकर आर्थिक मजबूती देने वाला व्यापारी आज स्वयं के लिए आर्थिक मदद की मांग कर रहा है। लेकिन कोई राहत देने के बजाय सरकार उल्टा व्यापार पर तालाबंदी करना चाहती है। जिसे बर्दाश्त नही किया जाएगा और इसका जवाब व्यापारी समय पर जरूर देंगे। बैठक में सत्ता पक्ष के व्यापार मंडलों की चुप्पी पर भी व्यपारियांे ने नाराजगी जाहिर की।  बैठक में मुख्य रूप से खड़खडेश्वर व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश सुखीजा, महानगर अध्यक्ष जितेंद्र चैरसिया, महामंत्री नाथीराम सैनी, दीपक मेहता, विनोद कुमार, पंकज माटा, राहुल अरोड़ा, प्रीतम कुमार, राजेश शर्मा, गणेश शर्मा, भूदेव शर्मा, धर्मपाल सिंह, अरुण शर्मा, अमित कुमार, राजेश अरोड़ा, राहुल शर्मा उपस्तिथ रहे।