चोरी की कई मामलों का खुलासा करते हुए पुलिस ने चार शातिर चोरों को किया गिरफ्रतार

आरोपी के पास से 10 लाख के मोबाइल,लैपटाॅप,इलैक्ट्राॅनिक उपकरण बरामद

हरिद्वार। जनपद के थाना पथरी पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। थाना पुलिस ने 4 शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है जिनके पास से चोरी के 10 लाख रुपये कीमत के मोबाइल लैपटॉप और के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामद हुए है। क्षेत्र में पिछले दिनों हुई लगाताऱ चोरी की वारदातों ने पुलिस की नींद उड़ा रखी थी। पथरी पुलिस ने सूचना पर मुखबिर की सूचना पर सेंध लगा रहे हैं चार शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की उम्र 21 से 30 साल के बीच है और अपने महंगे खर्चों को पूरा करने के लिए यह चोरियां करते थे। पुलिस के अनुसार इनमें से दो हरिद्वार के जबकि दो अन्य उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर और सहारनपुर के जनपदों के निवासी है। इस सम्बन्ध में थाना पथरी में पत्रकारों से वार्ता करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस ने बताया कि यह चारों दोस्त ठंड की रातों में व्यवसायिक प्रतिष्ठानों बैंकों और खाली पड़े घरों को निशाना बनाकर सेंधमारी करते थे। इनमे से कई अपराधी पहले भी गैंगस्टर, बलात्कार चोरी आदि की घटनाओं में जेल जा चुके है। पुलिस ने इन सभी के कब्जे से 10 लाख से ज्यादा का सामान बरामद किया है जिसमें महंगे एलसीडी लैपटॉप कंप्यूटर फ्रिज मोबाइल हैं जबकि महंगे सीसीटीवी और कई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में भी पुलिस को बरामद हुई हैं। एसएसपी के अनुसार यह मोटरसाइकिल को भी निशाना बनाते थे और उनके इंजनों को काटकर आसपास के बाजारों में बेच दिया करते थे। बताया कि पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से अलग-अलग स्थानों से चुराए गए लाखों रुपये कीमत के मोबाइल, लैपटॉप, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और जेवरात बरामद किए हैं। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में तोहिद निवासी ग्राम अम्बुवाला, रवि निवासी ज्वालापुर, राहुल निवासी सहारनपुर तथा शिवकुमार निवासी मुजफ्फरनगर शामिल हैं। एसएसपी ने बताया कि चारों रात में व्यवसायिक प्रतिष्ठानों, बैंकों और खाली पड़े घरों को निशाना बनाकर सेंधमारी करते थे। चारों के खिलाफ उत्तराखण्ड व उ.प्र.के सहारनपुर में कई मुकद्मे दर्ज हैं। पुलिस टीम में सीओ लकसर विवेक कुमार, थाना प्रभारी अमरचंद शर्मा, एसएसआई प्रमोद कुमार, एसआई उमेश कुमार, प्रकाशचंद, वीरेंद्र सिंह के अलावा कांस्टेबल जयपाल, राजाराम, संतोष, सुखविन्दर, हरिराज, संदीप जखमोला, संदीप राणा आदि शामिल रहे।