मेयर एव मेयर पति नही चाहते कि नगर निगम का सुचारू संचालन हो-सुनील अग्रवाल

 

हरिद्वार। मनोज खन्ना- नगर की बदहाल सफाई व्यवस्था व मेयरपति द्वारा नगर निगम का कांग्रेसीकरण व निगम कर्मचारियों को गुमराह करने के विरोध में भाजपा पार्षद दल की एक बैठक मध्य क्षेत्र में आहूत की गयी। बैठक में भाजपा पार्षदों ने मेयर व मेयरपति पर नगर निगम को पंगु बनाकर शहर को कूड़े के ढेर में तब्दील करने पर आक्रोश व्यक्त किया गया।  भाजपा पार्षद दल के नेता सुनील अग्रवाल ने कहा कि मेयर व मेयरपति नहीं चाहते कि नगर निगम का संचालन सुचारू रूप से हो सकें। मेयरपति मेयर को स्वतंत्रतापूर्वक कार्य नहीं करने देते उनकी पहले केआरएल कम्पनी से सांठगांठ रही अब वह पुनः शहर को कूड़े के ढे़र पर बैठाकर केआरएल की वापसी अथवा अपनी पंसदीदा कम्पनी को सफाई व्यवस्था सौंपने की जुगत बैठा रहे हैं। उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि भाजपा पार्षद द्वारा निगम अधिवेशन में खेद व्यक्त करने के पश्चात समूचा विवाद समाप्त हो गया था। मेयरपति व कांग्रेस मानसिकता के कथित नेताओं ने कर्मचारियों को गुमराह कर शहर को कूड़े के ढेर में तब्दील करने का पाप किया है जिसके लिए हरिद्वार की जनता उन्हें माफ नहीं करेगी। उपनेता राजेश शर्मा ने कहा कि नगर निगम कर्मचारियों एवं पार्षदों के मध्य किसी भी प्रकार का विवाद नहीं था। कुछ गलतफहमी थी जिसे बोर्ड बैठक में ही आपसी सद्भाव से दूर कर लिया गया था। बोर्ड का सुचारू संचालन मेयरपति को रास नहीं आया उन्होंने नगर निगम में कर्मचारियों को गुमराह कर हड़ताल की शुरूआत करवा दी। सचेतक लोकेश पाल व नितिन शर्मा माणा ने कहा कि भाजपा पार्षद नकारा मेयर व नौटंकीबाज मेयरपति के भरोसे शहर की सफाई व्यवस्था को बिगड़ने नहीं देंगे। इस अवसर पर पार्षद राधेकृष्ण शर्मा, परमिन्दर सिंह गिल, नितिन शर्मा माणा, अनिल वशिष्ठ, विनित जौली, अनिल मिश्रा, शुभम मैंदोला, प्रशांत सैनी मन्नू, सचेतक लोकेश पाल, पार्षद सचिन अग्रवाल, ललित रावत, विकास कुमार विक्की, एकता गुप्ता, मोनिका सैनी, सपना शर्मा, पिंकी चैधरी, निशा नौडियाल, दिनेश चैधरी, विनित चैहान, विकास कुमार, मनोज प्रालिया, बबीता वशिष्ठ, आशा सास्वत, कलावती, रेणु अरोड़, नेगी पुष्पा शर्मा, नागेन्द्र राणा, कमल बृजवासी, गौरव भाटिया, किशन बजाज, प्रिंस लोहाट, योगेन्द्र अग्रवाल, अरूण मेहता शामिल रहे।