गुलदार ने किया हमला दहशत में क्षेत्र के लोग

 हरिद्वार। हरिद्वार के सिडकुल क्षेत्र में गुलदार ने एक व्यक्ति पर हमला बोल दिया गुलदार के हमले से ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गया। गुलदार की आमद से क्षेत्र में दहशत फैल गई। घायल ग्रामीण का नाम शिवदयाल है जो तेलीवाला ग्राम का रहने वाला बताया जा रहा है। गुलदार के हमले की घटना सिडकुल थाना क्षेत्र स्थित महादेवपुरम की है जहां बीती रात शिवदयाल अपने घर की तरफ जा रहा था, घर जाते वक्त पहले से घात लगाये बैठे गुलदार ने शिवदायाल पर झपट पडा गुलदार के हमले से शिवदयाल गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल होने के बाद जैसे तैसे शिवदयाल सिडकुल के राजा बिस्कुट पुलिस चेक पोस्ट पहुंच गया जहाँ चेक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मी ने शिवदयाल को घायल अवस्था में मेट्रो अस्पताल ले गए। फिलहाल शिवदयाल की हालत गंभीर बताई जा रही है और डॉक्टरों द्वारा उसका इलाज किया जा रहा है। गौरतलब है कि सिडकुल का अधिकतर क्षेत्र जंगलों से सटा हुआ है इससे पूर्व भी गुलदार के हमले में कई लोग गंभीर रूप से घायल हो चुके है। डीएफओ नीरज शर्मा ने बताया कि रात्रि में क्षेत्र के स्थानीय लोगो द्वारा सूचना प्राप्त हुई की एक व्यक्ति खेतो की ओर से आ रहे था जिसके ऊपर गुलदार ने हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में बहुत बड़े-बड़े खेत हैं और एक नाला भी बहुत बड़ा है सुनसान इलाका है। उन्होंने बताया कि अभी गुलदार से हमले की जानकारीया प्राप्त की जा रही है। गुलदार ने ग्रामवासी शिवदयाल के ऊपर कहा हमला किया। नीरज शर्मा ने कहा कि ये बड़ा और खुला क्षेत्र है। खेती वाला क्षेत्र होने के कारण गुलदार के आने की संभावना तो बनी रहती है। उन्हेंने कहा कि इस क्षेत्र मे दो टीम लगाएंगे। डीएफओ नीरज शर्मा ने लोगो से अपील करते हुए कहा कि जब तक गुलदार को पकड़ ना ले तब तक अनावश्यक रूप से अपने घरों से बाहर ना निकले, रात में जंगल की ओर ना जाए और यदि किसी कारणवश जाना भी पड़े तो अपने हाथ में लाठी और टॉर्च लेकर जाएं बच्चे और महिलाओं का विशेष ध्यान रखें। जबकि गुलदार रोशनाबाद वन क्षेत्र,भेल,टिबडी,के अलावा वन क्षेत्र के मार्गो पर रात्रि में कभी भी आ जाता है। रात्रि में वाहन चालकों को गुलदार के आने का डर भय भी बना रहता है। पूर्व मे भी गुलदार की आमद से जगल से सटे क्षेत्रों मे निवास कर रहे लोगो मे गुलदार की दहशत बनी रहती है। वन विभाग के अधिकारी कर्मचारी लगातार लोगो को गुलदार के प्रति जागरूक करते रहते है।