वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने पांच वाहन चोर को दबोचा

 आरोपियों के पास के चोरी की आठ बाइक बरामद

हरिद्वार। कोतवाली लक्सर पुलिस ने वाहन चोरों के एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर चोरी की आठ बाइक बरामद की है। पुलिस के अनुसार आरोपियों ने वाहन चोरी की कई घटनाओं में संलिप्तता स्वीकार की है। इस सम्बन्ध में कोतवाली लक्सर में पत्रकारों से वार्ता करते हुएं एसएसपी सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस ने बताया कि छह फरवरी को सहकारी गन्ना विकास समिति लक्सर के लिपिक उमादत्त शर्मा की बाइक समिति परिसर से चोरी हो गई थी। इससे पूर्व अलावलपुर गांव निवासी मोहित शर्मा की बाइक भी गन्ना समिति मार्ग से ही चोरी हुई थी। दोनों मामलों में मुकदमा दर्ज कर पुलिस वाहन चोरों की तलाश कर रही थी। इसके लिए कोतवाली प्रभारी प्रदीप चैहान के नेतृत्व में एक टीम को लगाया गया था। एक सप्ताह में गन्ना सोसायटी मार्ग से दो बाइक चोरी होने की घटनाओं को देखते हुए पुलिस को चोरों के स्थानीय होने की आशंका थी। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने अपनी जांच आगे बढ़ाई। इस दौरान कुछ जानकारी हाथ लगने पर पुलिस ने रविवार शाम को बहादरपुर फाटक पर चेकिग के दौरान आरोपित आशीष उर्फ आशू और चंद्रशेखर सैनी निवासीगण सोसायटी मार्ग लक्सर को पकड़ लिया। उनके पास से चोरी की बाइक बरामद की गई। कोतवाली लाकर पूछताछ करने पर आरोपितों ने अपने साथियों के नाम पुलिस को बताए, जिसके बाद पुलिस ने उनके ठिकानों पर दबिश देकर आरोपित नितिन व राजू निवासीगण ग्राम चंदपुरी बांगर व अर्जुन निवासी ग्राम माडाबेला थाना खानपुर को गिरफ्तार कर लिया। कोतवाल प्रदीप चैहान ने बताया कि पूछताछ में आरोपितों ने लक्सर, मंगलौर, सिडकुल व अन्य स्थानों पर वाहन चोरी करने की बात स्वीकार की। बाइक चोरी करने के बाद वह नंबर प्लेट बदलकर वाहन को अलग-अलग व्यक्तियों को बेच दिया करते थे। पूछताछ के बाद आरोपितों का चालान कर दिया गया। वाहन गिरोह का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम में कोतवाल प्रदीप चैहान, एसएसआई नितेश शर्मा, चैकी प्रभारी अशोक कश्यप, एसआइ उमेश नेगी, मनोज कुमार, संजय रावत, यशवीर सिंह नेगी, कांस्टेबल उत्तम सिंह, जितेंद्र मलिक, सुदेश, मनोज मलिक व जोनू कुमार शामिल रहे।