कुम्भ के दौरान सफाईकर्मियों की समस्याओं के सम्बन्ध में बैठक,विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा

 

हरिद्वार। राज्य सफाई कर्मचारी आयोग अध्यक्ष अमिलाल सिंह वाल्मीकि की अध्यक्षता में मेला नियंत्रण भवन में सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के सम्बंन्ध में बैठक हुई। बैठक में कुम्भ मेले में सफाई व्यवस्था, सफाई कर्मचारियों की तैनाती, सफाई कर्मचारियों का वेतन का भुगतान बैकिंग प्रणाली के माध्यम से करने, सफाई कर्मचारियों को कोविड-19 से बचाव हेतु सफाई उपकरण, सुरक्षा उपकरण पीपीई किट, मास्क, ग्लब्स, वर्दी, सेनेटाइजर, जूते आदि मानकों के अनुसार उपलब्ध कराने, अस्थाई शौचालयों को किराये पर लिये जाने आदि के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा हुई। बैठक में ट्रेड यूनियन पदाधिकारियों द्वारा सफाई कार्य के लिये किये गये टेण्डर की प्रगति, डस्टबिन की व्यवस्था, सफाई कर्मचारियों को दी जाने वाली मजदूरी, कर्मचारियों की भर्ती की प्रक्रिया, महाकुम्भ अवधि में दुर्घटना होने पर मुआवजा दिये जाने, सफाई कर्मचारियों की कुम्भ अवधि में रहने की व्यवस्था, सफाई कर्मचारियों को महाकुम्भ के दौरान पास की व्यवस्था, नगर निगम के कार्मिकों को महाकुम्भ भत्ता दिलाये जाने आदि के बारे में भी जानकारी लेते हुये चर्चा की गयी। मेलाधिकारी दीपक रावत ने बैठक में बताया कि सफाई कर्मचारियों के वेतन आदि का भुगतान सम्बन्धित के खाते में ही जायेगा, सफाई कर्मचारियों को कोविड-19 से बचाव के लिये जागरूक करने के साथ-साथ सुरक्षा सामग्री उपलब्ध कराई जायेगी, कर्मचारियों को पास की सुविधा भी उपलब्ध कराई जायेगी, प्राईवेट शौचालयों की एप के माध्यम से माॅनिटरिंग की जायेगी। बैठक से पूर्व राज्य सफाई कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष अमिलाल सिंह वाल्मीकि का पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया गया। बैठक में अपर मेलाधिकारी रामजी शरण शर्मा, मुख्य नगर अधिकारी जय भारत सिंह, उप मेलाधिकारी दयानन्द सरस्वती, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा.एचडी शाक्य, कर्मयोगी कल्याणकारी समिति की प्रदेश अध्यक्ष पूनम वाल्मीकि, देवभूमि उत्तराखण्ड सफाई कर्मचारी यूनियन तथा अन्य ट्रेड यूनियनों के पदाधिकारी-सुरेन्द्र तैश्वर, कन्हैया चंचल, आनन्द कांगड़ा, खलील सलमानी, मूलचन्द, प्रवीण कुमार, अनूप कुमार, राजेन्द्र चुटैला, अशोक तेश्वर सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।


Comments