यूपी सरकार ने बनाया अस्थायी आपदा कंट्रोल रूम,तीन मंत्री पहुचे धर्मनगरी

 

हरिद्वार। उत्तराखण्ड में आयी आपदा के बाद यूपी सरकार हर संभव सहायता को तैयार है। चमोली में ऋषिगंगा में अचानक ग्लेशियर के टूटने से निर्माणाधीन पावर प्रोजेक्ट के क्षतिगस्त होने तथा करीब दौ सौ लोगों के गुम होने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने कहा कि उत्तराखंड की हरसंभव मदद के लिए उत्तर प्रदेश सरकार तैयार है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीन मंत्रियों का प्रतिनिधिमंडल बनाकर उत्तराखंड भेजा है। इस सम्बन्ध में बुधवार को अलकनंदा भवन में प्रेस वार्ता करते हुए कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी और राज्य मंत्री विजय कश्यप ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरह उत्तराखंड के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि इस त्रासदी में उत्तर प्रदेश के 93 लोग लापता हुए थे। समन्वय उत्तराखंड से लगातार उत्तर प्रदेश का बना हुआ है। लापता लोगों की तलाश की जा रही है। चमोली त्रासदी में लापता हुए उत्तर प्रदेश के लोगों की तलाश जारी है। इसके लिए यूपी सरकार की ओर से हरिद्वार के अलकनंदा भवन में अस्थाई आपदा कंट्रोल रूम बनाया गया है। यूपी के मंत्रियों ने बुधवार को प्रेस वार्ता कर तीन हेल्पलाइन नंबर 1070, 7351508180 और 9389793202 जारी किए हैं। मंत्रियों ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी तक 21 लोग सकुशल अपने घरों तक पहुंच गए हैं। जबकि दो की मौत हो चुकी है। 70 अन्य लापता लोगों की तलाश की जा रही है। कमिश्नर सहारनपुर और डीआईजी सहारनपुर लगातार उत्तराखंड के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर जानकारियां ले रहे हैं। मंत्रियों ने कहा कि यूपी की ओर से एएसपी और एसडीएम को चमोली भेजा जा चुका है। जो पल-पल की रिपोर्ट लखनऊ में दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 3 सदस्य मंत्रियों की कमेटी बनाकर उत्तराखंड उन्हें भेजा है। एक सवाल के जवाब में मंत्रियों ने कहा कि यूपी सरकार मृतकों के परिजनों को अतिरिक्त दो- दो लाख रुपये दे रही है। उन्होंने बताया कि कंट्रोल रूम में 24 घंटे उत्तर प्रदेश के अधिकारी बैठेंगे। जबकि डीआईजी सहारनपुर और कमिश्नर इसके नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं राहत एवं बचाव कार्यो की निगरानी कर रहे हैं। यूपी सरकार की ओर से उत्तराखण्ड सरकार को भी पूरी मदद का आश्वासन दिया गया है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और आईटीबीपी के जवान राहत एवं बचाव कार्यो में जुटे हुए हैं। उत्तर प्रदेश के कई अधिकारी आपदा स्थल पर मौजूद हैं। प्रेस वार्ता में जिला महामंत्री भाजपा विकास तिवारी, धर्मेंद्र समेत अन्य भाजपा नेता उपस्थित रहे।


Comments