पुलिस महानिदेशक ने गंगा को साझी मान पुलिसकर्मियों को दिलाई सुरक्षित कुम्भ की शपथ

 

हरिद्वार। सुरक्षित कुम्भ मेला सम्पन्न कराने की शपथ मेला पुलिस के साथ साथ मेला ड्यूटी में तैनात अद्र्वसैनिक बलों को दिलाई गइ।ं रविवार को मेला पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के दस हजार से अधिक पुलिसकर्मी और जवानों ने गंगा को साक्षी मानकर सुरक्षित कुंभ की शपथ ली। पुलिसबलो के शपथ के लिए 1 घंटे तक हरकी पैड़ी को यात्रियों के लिए सील किया गया था। प्रदेश सरकार के नोटिफिकेशन के अनुसार एक अप्रैल से कुंभ का आधिकारिक शुभारंभ होने जा रहा है। मेला पुलिस अपनी सभी तैयारियां पूरी कर चुकी हैं। इस बीच डीजीपी अशोक कुमार रविवार को हरिद्वार पहुंचे और हरकी पैड़ी पर मेला पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों को कुंभ सुरक्षित, सकुशल और सफल बनाने की शपथ दिलाई। डीजीपी ने पुलिस बल को अनुशासन और सेवा भाव से ड्यूटी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं के साथ विनम्रता से पेश आएं। उन्होंने कहा कि 12 और 14 अप्रैल को होने वाले शाही स्नान पुलिस के लिए इस महाकुंभ की सबसे बड़ी चुनौती हैं। उन्होंने कहा कि चुनौतियों को देखते हुए अपनी तैयारियां की गई हैं। कोरोना की गाइडलाइन का पालन कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस का पहला प्रयास रहेगा कि हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की दिक्कत न हो। स्नान के लिए श्रद्धालुओं को कम से कम पैदल चलना पड़े। कहा कि कई जगह पार्किंग के पास ही घाट बनाये गए हैं ताकि यात्रियों को दिक्कतें न हो। इसके बाद डीजीपी ने मेला आइजी संजय गुंज्याल के साथ शाही स्नान पर्वों पर की जाने वाली सुरक्षा और यातायात व्यवस्था की जानकारी ली। इससे पहले डीजीपी अशोक कुमार, मेला आईजी संजय गुंज्याल, डीआईजी रेंज नीरू गर्ग, एसएसपी सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस, एसएसपी कुंभ जन्मेजय प्रभाकर खंडूरी, एसपी रेलवे मंजूनाथ टीसी, एसपी कुंभ नवनीत भुल्लर समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने पूजा अर्चना की। इस मौके पर श्रीगंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, सिद्धार्थ चक्रपाणी समेत अन्य पदाधिकारी के अलावा अन्य लोग उपस्थित रहे।


Comments