अंकित सैनी अध्यक्ष तथा योगेंद्र विश्राल बने विद्युत संविदा कर्मचारी संगठन के महामंत्री

 

हरिद्वार। रविवार को ज्वालापुर स्थित सैनी आश्रम में आयोजित उत्तराखण्ड विद्युत संविदा कर्मचारी संगठन की बैठक में संगठन की नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। संगठन के पूर्व अध्यक्ष जेए योगेंद्र विश्राल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में पूरे प्रदेश से आए संगठन के सदस्यों की मौजूदगी में सर्वसम्मति से संपन्न हुए चुनाव में अंकित सैनी अध्यक्ष, नरेंद्र बुड़लाकोटी उपाध्यक्ष, जेए.योगेंद्र विश्राल महामंत्री तथा अजय शाह कोषाध्यक्ष चुने गए। सुरेंद्र रावत संरक्षक, अरविन्द बिष्ट सलाहकार तथा तरूण हलदर व संतोष चंद सहसचिव चुने गए। राजेश भण्डारी, सुरेश भट्ट, सुरेंद्र नेगी, पुरूषोत्तम, राकेश देवराड़ी को सदस्य कार्यकारिणी मनोनीत किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथी रानीपुर विधायक आदेश चैहान ने नवगठित कार्यकारिणी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विद्युत संविदा कर्मचारियों की मांगों को सरकार के समक्ष रखकर समाधान कराया जाएगा। संविदा कर्मचारी विभाग में निष्ठापूर्वक अपनी सेवाएं प्रदान करते हैं। अन्य कर्मचारियों के साथ मिलकर उपभोक्ताओं को अच्छी सेवाएं उपलब्ध कराते हैं। संविदा कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखकर कार्य किया जाएगा। किसी भी सूरत में संविदा कर्मचारियों का उत्पीड़न नहीं होने दिया जाएगा। वेतन संबंधी समस्याओं का समाधान उच्चाधिकारियों से वार्ता कर हल निकालने का प्रयास किया जाएगा। उत्तराखण्ड विद्युत संविदा कर्मचारी संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अंकित सैनी ने कहा कि सभी के सहयोग संगठन को मजबूत किया जाएगा। संविदा कर्मचारियों का उत्पीड़न किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा। संविदा कर्मचारियों के हितों की लड़ाई शासन स्तर तक उठायी जाएगी। किसी भी संविदा कर्मचारी को परेशानी नहीं होने दिया जाएगा। सबको साथ लेकर कर्मचारियों हितों के लिए प्रत्येक स्तर पर संघर्ष किया जाएगा। उपाध्यक्ष नरेंद्र बुड़लाकोटी व महामंत्री जेए योगेंद्र विश्राल ने कहा कि एकजुटता से ही संगठन की ताकत बनती है। संगठन के प्रति ईमानदारी से अपना योगदान करें। संविदा कर्मचारियों के निदान के लिए भरसक प्रयास किए जाएंगे।


Comments