कुम्भ मेला के लिए बने अस्थायी शौचालयों में लगी आग,मशक्कत के बाद काबू

 

हरिद्वार। रानीपुर कोतवाली क्षेत्र के फाउंड्री गेट के पास कुंभ के लिए बनाए गए अस्थाई शौचालयों में आग लग गई। आग लगने का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। आग लगने के बाद हड़कंप मच गया। कई सौ शौचालय जलने की बातें सामने आ रही है। धीरवाली बैरियर नंबर पांच टेलीफोन एक्सचेंज के समीप मैदान में कुंभ मेले में लगाए जाने वाले फाईबर के शौचालय, टैंक, प्लास्टिक के अन्य सामान में आग लग गयी। मैदान में रखे कुंभ मेले के लिए आए प्लास्टिक के शौचालय, टैंक आदि जलकर राख हो गए। आग लगने से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। सीएफओ नरेंद्र सिंह कुंवर, प्रभारी एफएसओ शिशुपाल सिंह नेगी ने मौके पर पहुंच चुके थे। कुंभ, मायापुर के अलावा सिडकुल से गाड़ियां आग बुझाने के लिए बुलाई गई थी। मौके पर भारी भीड़ इकठ्ठा हो गयी। आग इतनी भयंकर थी कि आसमान में काले धुएं का गुबार उठने लगा। आग लगने की सूचना पर मेला प्रशासन के कई अधिकारी पहुंचे। वहीं मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने बमुश्किल आग पर काबू पाया। आग इतनी भयंकर थी कि दमकर की गयी गाड़ियां आग बुझाने के लिए लगानी पड़ी। आग बुझने तक लाखों रूपए कीमत का सामान जलकर राख हो गया। पास ही कुंभ मेला पुलिस कैंप व टेलीफोन एक्सचेंज तथा विष्णुलोक कालोनी है। गनीमत रही कि आग लगने से किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई हालांकि अभी आग लगने के कारणों का कारण नहीं पता चल पाया है। लेकिन आग लगने से कुंभ मेले में इस्तेमाल के लिए मंगाए गए लाखों रूपए कीमत के फाईबर के शौचालय व अन्य दूसरा सामान जल गया। कुंभ मेले के पहले शाही स्नान के एक दिन पूर्व हुई आग लगने की घटना से मेला प्रशासन व पुलिस में हड़कंप मच गया। अपर मेला अधिकारी हरबीर सिंह सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। अपर मेला अधिकारी हरबीर सिंह ने बताया कि कुंभ मेले में इस्तेमाल के लिए मंगाए गए शौचालय और दूसरा सामान जल गया। फिलहाल आग पर काबू पा लिया गया है। जांच के बाद ही नुकसान का सही आकलन हो पाएगा। एफएसओ शिशुपाल नेगी ने बताया कि आग पर काबू पा लिया गया है। आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि किस कारण से आग लगी है। प्रत्यक्षदर्शी अंकित चैहान ने बताया कि आग इतनी भयंकर थी कि आसमान में काफी ऊपर तक काला धुंआ फैल गया। निकट ही विष्णुलोक कालोनी के निवासियों व टेलीफोन एक्सचेंज में काम करने वाले कर्मचारियों में भी हड़कंप मच गया। अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने दमकल सहित मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। आग जल्दी बुझा दी गयी। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।