अध्यक्ष पर झूठे तथ्य पेश किए जाने का लगाया आरोप

 

हरिद्वार। सलमानी वेलफेयर सोसायटी को लेकर चल रहे विवाद में आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। सोसायटी के अध्यक्ष के बाद अब दूसरे पक्ष के नसीम अहमद सलमानी ने प्रैसवार्ता कर कहा कि अध्यक्ष पर झूठे तथ्य पेश किए जाने का आरोप लगाया है। शनिवार को पै्रसक्लब में आयोजित प्रैसवार्ता के दौरान नसीम अहमद सलमानी ने दावा किया सोसायटी अध्यक्ष के खिलाफ दर्ज हुआ मुकद्मा पूरी तरह सही है। मुकद्मा दर्ज होने के बाद वे झूठे तथ्य पेश कर खुद को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। नसीम अहमद सलमानी ने एक बार फिर आरोप लगाया कि अध्यक्ष समाज की संपत्ति पर अपना वर्चस्व रखना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने अपने करीबी लोगों को मिलाकर एक कमेटी पंजीकृत करायी थी। लेकिन जब उन्होंने हिसाब नहीं दिया तो विरोध शुरू हुआ। जिसके बाद पुलिस अधिकारियों ने आठ लोगों की एक कमेटी का गठन करा दिया। बाद में कमेटी के कुछ लोगों को उन्होंने अपने साथ मिला लिया। लेकिन कमेटी आज भी बदस्तूर कार्य कर रही है। समाज में खराब हो चुकी अपनी छवि को बचाने के लिए वे गलत तथ्य पेश कर मानहानि का मुकद्मा करने की चेतावनी दे रहे हैं। नसीम अहमद सलमानी ने यह भी कहा कि सभी आरोपों की निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के मुअज्जि लोगों से इस पूरे मामले की जांच करा भी करा सकते हैं। हिसाब तो अध्यक्ष को देना ही होगा। इस दौरान गफ्फार सलमानी, सैफ अली, मुकर्रम, असलम, इसरार, शाहिद, शमशाद, शमशेर, परवेज, रिजवान, शमीम, गुलबहार, आसिफ, शाहनवाज आदि भी मौजूद रहे।