हर हर महादेव के उद्घोष के साथ निकली आवाहन अखाड़े की पेशवाई

 भव्य झाॅकियों,बैण्ड बाजों के साथ निकाली गयी पेशवाई का जगह जगह भव्य स्वागत

हरिद्वार।-कुम्भ मेला 2021 के दौरान सन्यासी अखाड़ों द्वारा पेशवाई निकालने का सिलसिला तीसरे दिन भी जारी रहा। तीसरे दिन शुक्रवार को हर हर महादेव के जयकारों के साथ श्रीपंचदशनाम आवाहन अखाड़ा ने पूरे धार्मिक परम्परा और धार्मिक हषोल्लास के साथ शाही पेशवाई निकालकर अपने छावनी में पहुचे। इस दौरान नगर में जगह जगह लोगों ने पेशवाई का भव्य स्वागत करते हुए नागा साधुओं के साथ साथ महामण्डलेश्वरों से आर्शीवाद लिया। पेशवाई का मेलाधिकारी दीपक रावत,जिलाधिकारी सी रविशंकर,एसएसपी सैन्थिल अबदुई कृष्णराज एस,अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह,एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने सभी संतो का स्वागत किया। इस दौरान कोरोना को लेकर लोगों को जागरूक भी किया जाता रहा। मेला आईजी संजय गुंज्याल द्वारा पांडेवाला ज्वालापुर गुघाल मंदिर पहुंच कर श्री पंच दशनाम आवाहन अखाड़ा के संत महात्माओं का माला पहना कर स्वागत सम्मान किय गया। इस दौरान गुघाल मंदिर में मौजूद पुलिस बेंड द्वारा भजनों की धुनें बजा कर माहौल को भक्ति मय किया गया। इसके बाद आईजी कुम्भ द्वारा अखाड़े की पेशवाई शोभायात्रा का शुभारंभ किया गया।
ज्वालापुर के पाण्डेवाला स्थित गुघाल मन्दिर से दोहपर में अपने इष्टदेव की पूजा अर्चना के बाद पेशवाई निकाली गयी,जो ज्वालापुर के बाजारो से होती हुई श्रीराम चैक से उचे पुल के रास्ते आर्यनगर पहुची,जहां से शंकर आश्रम से पेशवाई चन्द्राचार्य चैक से टिबड़ी मोड से आगे ऋषिकुल तिराहा से होती हुई देवपुरा पहुची,जहां से शिवमुर्मि चैक के आगे बाल्मीकि चैक से होती हुई मायादेवी पहुचकर अपने अपने छावनी में पहुचे। पेशवाई जुलूस के निकाले जाने के दौरान पुलिस प्रशासन द्वारा कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए थे। पुलिस के साथ रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों को भी तैनात किया गया था। कुंभ मेला आईजी संजय गंुज्याल, मेला एसएसपी जनमेजय खण्डूरी, जिले के पुलिस कप्तान सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय आदि स्वयं सुरक्षा प्रबंधों का जायजा लेते रहे। शाही पेशवाई में सबसे आगे अखाड़े के आचार्य महामण्डलेश्वर शिवेन्द्रपुरी महाराज का रथ चल रहा था,उनके पीछे अखाड़े के संरक श्रीमहंत नीलकंठ गिरि का रथ चल रहा था। भव्य झाॅकियो,बैण्ड बाजों के साथ दोपहर ज्वालापुर से निकली पेशवाई सायकाल मायादेवी प्रांगण पहुची। इस दौरान जगह जगह लोगों ने पेशवाई का भव्य स्वागत किया। बड़ी संख्या में श्रद्वालु सड़क के दोनो किनारे खड़े होकर पेशवाई में शामिल संतो,महंतो,नागा बाबाओं के दर्शन कर रहे थे। पुलिस बलों की भारी तैनाती के साथ पेशवाई में शामिल नागा सन्यासियों द्वारा कई स्थानों पर अपने करतब दिखाये। पेशवाई में अखाड़ा के महामंत्री श्रीमहंत सत्य गिरि के साथ श्रीमहंत बिहारी गिरी,श्रीमहंत राकेश गिरि,श्रीमहंत राजेन्द्र भारती,श्रीमहंत भोला गिरि,रमता पंच के श्रीमहंत भारद्वाज गिरि,श्रीमहंत महेन्द्र पुरी,श्रीमहंत शरद भारती,श्रीमहंत चैतन्य गिरि,श्रीमहंत देशराज पुरी,श्रीमहंत घनश्याम गिरि,श्रीमहंत बटेश्वर भारती,श्रीमहंत सुन्दर पुरी,श्रीमहंत कैलाशपुरी,श्रीमहंत मनमोहन गिरि,श्रीमहंत बालयोगी पुरी सहित बड़ी संख्या में संतो महंतो के रथ पेशवाई की शान को बढ़ा रहा था। वही दूसरी ओर इस अवसर पर कुंभ पेशवाई यात्रा में पंचायती धड़े के अध्यक्ष महेश तुम्बडिया, महामंत्री उमाशंकर वशिष्ठ, कोषाध्यक्ष सचिन कौशिक, पंडित योगेश्वर वशिष्ठ, बृजेश वशिष्ठ, पंडित करुणेश मिश्र, विपुल मिश्रौटे, श्री राम, सरदार निर्मल गोस्वामी, अनिरुद्ध वशिष्ठ, संजय वशिष्ट, अजय हैमनके, सुधीश श्रोत्रिय, अनिल कौशिक, सुनील मिश्रा, सौरभ सिकोला, संजय व उमेश कौशिक, वासु अत्रेय, अंकुर पालीवाल, वासु मीना के दीपक बागडोलीये आदि तीर्थ पुरोहित शामिल रहे।