कम्पनी से निकाले गये श्रमिकों ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

 हरिद्वार। सिडकुल रोशनाबाद में स्थित सत्यम ऑटो कंपनी के कर्मचारियों ने कंपनी प्रशासन एवं स्थानीय विधायक के खिलाफ चिन्मय डिग्री कॉलेज के बाहर परिवार सहित धरना प्रदर्शन कर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। इस अवसर पर कई श्रमिक संगठनों ने धरना स्थल पर पहुंचकर कर्मचारियों को सहयोग देने की बात कही। कर्मचारियों ने बताया कि कंपनी प्रशासन और कर्मचारियों के बीच लगभग 3 वर्ष से यह लड़ाई चल रही है क्योंकि कंपनी ने 3 वर्ष पूर्व कई कर्मचारियों को निकाल दिया गया था। तभी से हम कंपनी प्रशासन के साथ कर्मचारियों की बहाली के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। कर्मचारी नेताओं ने बताया कि  पिछले 3 वर्ष पूर्व कुछ कर्मचारियों को कंपनी से निकाल दिया गया था कि जिस कारण कर्मचारियों के परिवार का भरण पोषण मुश्किल हो गया तभी से कर्मचारी संगठन कंपनी प्रशासन, श्रम कार्यालय, स्थानीय प्रशासन ,विधायक गण सभी लोगों से वार्ता करते आ रहे हैं लेकिन कोई भी सहयोग देने को तैयार नहीं है। इस अवसर पर कांग्रेस नेता वरुण वालिया ने कहा कि हरिद्वार सिडकुल प्रशासन ने आंखों में पट्टी बांध रखी है उनको कर्मचारियों की पीड़ा से कुछ लेना देना नहीं है उन्होंने कहा कि कंपनी प्रशासन, टीएलसी, डीएलसी, स्थानीय विधायक सभी लोग अपनी अपनी मनमानी कर रहे हैं इन लोगों को कर्मचारियों से कुछ भी लेना देना नही है। उन्होंने कहा कि इस तरह का रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा हम कर्मचारियों की हक की इस लड़ाई में उनके साथ हैं और हर संभव उनके इस आंदोलन में साथ है। इस अवसर पर मुख्य रूप से कर्मचारी नेता महिपाल सिंह राजेंद्र सिंह कांग्रेसी नेता वरुण बालियान, रवि बहादुर, राजेश देशवाल हिमांशु बहुगुणा चंद्रेश राहुल ,ओमप्रकाश, हरीश नेगी, आदि सैकड़ों लोग एवं परिवार की महिलाएं बच्चे शामिल रहे शामिल रहे।


Comments