पार्षद के नेतृत्व लोगों ने किया जलसंस्थान कार्यालय का घेराव

 

हरिद्वार। पेयजल संकट का सामना कर रहे भीमगोड़ा क्षेत्र की महिलाओं व युवाओं ने पार्षद अनिल वशिष्ठ के नेतृत्व में जलसंस्थान के अधिशासी अभियंता कार्यालय का घेराव कर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान अनिल वशिष्ठ ने कहा कि अमृत योजना के तहत भीमगोड़ा क्षेत्र के ऊंचे स्थान पर बसी बस्तियों में पेजयल पहुुचाने के लिए बिछायी गयी मेन राईजिंग लाईन से पंतदीप मैदान में बनाए गए शिविरों व शौचालयों में कनेक्शन दे दिए गए हैं। जिससे वार्ड में ऊंचाई पर बसे मौहल्लों में पेयजल संकट उत्पन्न हो गया है। पिछले 20 दिनों से क्षेत्र के लोग भीषण जल संकट का सामना कर रहे हैं। पेयजल संकट दूर करने के लिए उन्होंने अधिशासी अभियंता को पत्र भी लिखा, उन्होंने समस्या दूर करने का आश्वासन दिया था। लेकिन दस दिन बीतने के बाद भी समस्या जस की तस बनी हुई है। अनिल वशिष्ठ ने बताया कि कुंभ मेले के लिए जल निगम द्वारा एक करोड़ पच्चीस लाख रूपऐ की लागत से एक नलकूप स्थापित किया गया था। लेकिन कुंभ मेले के लिए बनाए गए नलकूप से पंतदीप स्थित शिविरों को पानी ना देकर आम जनता के लिए पेयजल सप्लाई करने वाली लाइन से जबरन कनेक्टिविटी कर दी गयी। जिसका खामियाजा वार्ड नंबर 5, 6 एवं 4 की 20 हजार की आबादी भुगत रही है। पार्षद ने बताया कि इस दौरान जल निगम के अधिशासी अभियंता मौहम्मद मीसम की उपस्थित में हुई वार्ता के बाद जलसंस्थान के अधिशासी अभियंता मदन सेन एवं अपर सहायक अभियंता राकेश बमराड़ा ने आश्वासन दिया है कि तत्काल कार्यवाही करते हुए जल संकट से क्षेत्रवासियों को राहत दिलाने दिलाने का आश्वासन दिया। पार्षद ने विभागीय अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा यदि समय रहते समस्या का समाधान नहीं किया गया तो 18 मार्च से जनता को साथ लेकर पंतदीप स्थित जलसंस्थान कार्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया जाएगा। धरना प्रदर्शन करने वालों में विमल वशिष्ठ, इशांत उपाध्याय, रवि नरसिंह, पवन खैरवाल, प्रवेश, कल्पना देवी, किरण देवी, रितु देवी, अलका देवी, गीता देवी, संगीता वर्मा, बीना शर्मा, लक्ष्मी देवी, हेमा उपाध्याय, पुष्पा गरकोटी, रजनीश वशिष्ट, संजय सुंद्रियाल, महेंद्र सैनी, देवकीनंदन शर्मा, नीरज ममगाईं, बलवीर कांबोज, राजेंद्र जोशी, मनीष चैटाला, पूजा देवी, बीना कांबोज, रीता पुरोहित, सरिता पुरोहित, हेमा विश्नोई आदि शामिल रहे।