यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री पहुचे तीर्थनगरी,शंकराचार्य से लिया आर्शीवाद,कोरोना को लेकर सरकार पर बोला हमला

 

हरिद्वार। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी और उत्तराखंड में समाजवादी पार्टी अपने बूते पर सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी। आगामी विधानसभा किसी भी बड़े राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं किया जाएगा। रविवार को हरिद्वार में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सपा प्रमुख ने कई मुदद्ो पर खुलकर बातचीत की। इससे पूर्व रविवार को अखिलेश हरिद्वार पहुंचे और शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती के साथ ही अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती से मुलाकात कर आशीर्वाद लिया। पहले शंकराचार्य नगर में पहुंचकर अखिलेश ने अविमुक्तेश्वरानंद से मुलाकात की।  इसके बाद कनखल स्थित शंकराचार्य मठ में अखिलेश यादव पहुंचे और स्वरूपानंद सरस्वती से आशीर्वाद लिया। नीलधारा के तट पर गंगा पूजन के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए अखिलेश ने कहा कि उत्तराखंड की 70 सीटों पर जल्द ही पार्टी प्रत्याशियों से आवेदन मांगे जाएंगे। संगठन को भी मजबूत किया जा रहा है। बढ़ते कोरोना की स्थिति को देखते हुए उन्होंने यूपी सरकार पर हमला बोला। कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्टार प्रचारक हैं। चुनाव में प्रचार करने में व्यस्त है। उन्हें जनता का ख्याल नहीं है। यूपी में दवाई तक नहीं मिल रही है। टेस्टिंग में देरी हो रही है। लोगों के सामने दिक्कतें पैदा हो रही है, जो तैयारी सरकार को करनी चाहिए थी वह नहीं की गई है। अखिलेश यादव ने कहा कि बंगाल में वह ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री बनता हुआ देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के स्टार प्रचारक बंगाल में ममता बनर्जी के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए भी गए थे। अखिलेश ने कहा कि वह जगद्गुरु शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती और अविमुक्तेश्वरानंद की शरण में आए हैं। भविष्य में इस तरह की कोई गलती नहीं होगी है। बता दें कि वर्ष 2016 में गणेश विसर्जन को लेकर अविमुक्तेश्वरनंद और यूपी की तत्कालीन सरकार आमने सामने आ गई थी। जिस कारण यूपी के मुख्यमंत्री से उनका विवाद हुआ था। अखिलेश ने नील धारा के तट पर अविमुक्तेश्वरानंद, रामानंद समेत अन्य संतों के साथ देश की खुशहाली की कामना को लेकर गंगा जी पूजा-अर्चना की।


Comments