पिछला भुगतान मिलने तक मु्फ्त राशन नहीं बांटने की चेतावनी

 हरिद्वार। उत्तराखंड राजकीय उचित दर विक्रेता एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बैठक कर गत वर्ष हुए लाॅकडाउन के दौरान बांटे गए मु्फ्त राशन का लाभांश व भाड़ा भुगतान किए जान की मांग की है। साथ ही पिछला भुगतान मिलने तक मुफत राशन नहीं बांटने की चेतावनी भी दी है। ज्वालापुर के धीरवाली में हुई एसोसिएश की बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष नरेंद्र शर्मा ने कहा कि देश में कोरोना की दूसरी लहर आने पर प्रधानमंत्री द्वारा पुनः मुफ्त राशन बंटवाने का ऐलान किया है। इसका सभी स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि गत वर्ष किए गए लाॅकडाउन के दौरान 5 माह तक मुफ्त राशन बंटवाया गया था। जिसका कोई भी लाभांश व भाड़ा उचित दर विक्रेताओं को नहीं दिया गया। सिर्फ आश्वासन ही दिया गया। इस बारे में खाद्य सचिव से मिलने पर  उन्होंने बताया कि बजट आ गया है जल्द ही खाते में पैसा पहुंच जाएगा। लेकिन 3 माह से ऊपर हो गए परंतु ना लाभांश मिला ना ही भाड़ा। बैठक में तय किया गया कि जब तक पिछला भुगतान नहीं होगा तब तक उचित दर विक्रेता मुफ्त खाद्यान्न नहीं बाटेंगे। साथ ही यह भी तय किया कि कोरोना काल में मशीनों में अंगूठा भी नहीं लगाएंगे। क्योंकि इससे वायरस फैलने के घातक परिणाम हो सकते हैं। जिला महामंत्री प्रदीप अग्रवाल, उपाध्यक्ष नाथीराम सैनी, सुभाष जैन, कपिल गुलाटी, महाराज किशन सेठ ने भी विचार रखे। बैठक में बहादराबाद से राकेश गुप्ता, रुड़की से जरीफ अहमद व कुलदीप, लक्सर से मैनपाल, नारसन से सुनील कुमार, मंगलौर से रघुवीर सिंह, लंढोरा से संजय कुमार उपस्थित रहे।


Comments