प्रोपर्टी कार्ड मिलने से परिवारों में आपसी सौहार्द और आत्मविश्वास बढेगा-प्रधानमंत्री

 पंचायती राज दिवस के मौके पर स्वामित्व योजना के तहत बांटे गये प्रोपट्री कार्ड

हरिद्वार। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शनिवार को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर स्वामित्व योजना को राष्ट्रीय स्तर पर लागू कर दिया गया। प्रधानमंत्री वर्चुअली माध्यम से राज्यांे के मुख्यमंत्रियों व लाभार्थियों से जुड़े। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत भी कार्यक्रम जुड़े। कार्यक्रम में तहसीलों के माध्यम से ग्राम पंचायत प्रतिनिधि भी सीधे प्रधानमंत्री से जुडे। प्रशासन के माध्यम से आज ग्रामीणों को प्रोपर्टी कार्ड बांटे गये। अपर जिलाधिकारी  के.के मिश्र ने मनोज कुमार, यशपाल सिंह, अरविंद कुमार, पवन कुमार सभी निवासी बंजारेवाला तथा धीर सिंह निवासी निहंतपुर सुठारी तहसील लक्सर को स्वामित्व कार्ड वितरित किये। उनके साथ जिला पंचायती राज अधिकारी रमेश त्रिपाठी सहित पंचायत विभाग के कार्मिक उपस्थित रहे। श्री मोदी ने ग्राम पंचायतों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का दिन ग्राम पंचायतों के सराहनीय कार्यो को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। गांव और गरीब को उसके घर जमीन का कानूनी अधिकार दिलाने वाली स्वामित्व योजना आज से देशभर में चालू हो गयी है। ग्रामीण आवासीय भूमि का कानूनी दस्तावेज है। प्रत्येक ग्रामीण को उसका प्रोपर्टी कार्ड मिलने से परिवारों में आपसी सौहार्द और आत्मविश्वास बढेगा। कोर्ट कचहरी और परिवार के लड़ाई झगड़े समाप्त होंगे। ग्रामीणों को बैंको की लोन योजनाओं का लाभ सरलता से मिल सकेगा। उन्होंने सभी ग्राम पंचायतों को पब्लिक फाइनेंस मेनेजमेंट सिस्टम से शीघ्र अपनाने को कहा। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों से पूर्व की भाॅति इस वर्ष भी कोरोना के चुनौती का सामना करने तथा कोरोनो को गांवों तक न पहुंचने देने की अपील की। उन्होंने कहा कि गांवो ने पिछले वर्ष जो नेतृत्व किया पुनः उसका अनुसरण करें। उन्होंने कहा कि इस बार हमारे पास किस प्र्रकार बचाव करना है, व्यवहार करना तथा वैक्सीन का सुरक्षा कवच है जिसे प्रत्येक ग्रामीण तक पहुंचाना है, हर ग्रामीण को दोनो डोज लगे ऐसा सुनिश्चित करें। भारत के गंाव प्रगति और संस्कृति का नेतृत्व करते हैं गांव समर्थ और आत्मनिभर्र हो इसके लिए अनेक योजनायें भारत सरकार ग्राम पंचायतो के माध्यम से चला रही है। उन्होंने सभी ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों को पंचायत दिवस और गांवो के कोरोनला मुक्त बने रहने की शुभकामनायें दीं। केंद्रीय पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने योजना की विस्तृत जानकारी पंचायत प्रतिनिधियों को दी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक वर्ष 24 अप्रैल को देशभर की सर्वश्रेष्ठ पंचायतों को पंाच पुरस्कार प्रदान किये जाते हैं इस वर्ष भी विजेता ग्राम पंचायतों को नकद धनराशि प्रधानमंत्री के द्वारा बटन दबाकर सीधे पंचायतों के खाते में हस्तांतरित की गयी।


Comments