पर्यटन व्यवसायियों ने किया एसओपी के कारण हो रही समस्याओं पर विचार

हरिद्वार। टूर ऑपरेटर एसोसिएशन उत्तराखंड की बैठक में कोविड-19 को लेकर लागू किए जा रहे नित नियमों एवं एसओपी के कारण होने वाली समस्याओं पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में टैक्सी मैक्सी ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, होटेलियरस एसोसिएशन एवं गाइड एसोसिएशन आदि संगठनों के पदाधिकारी और सदस्य शामिल हुए। एक होटल में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए अभिषेक आहलूवालिया व विभास मिश्रा ने कहा कि कोरोना की रोकथाम को लेकर जारी बेहद कठोर एसओपी से पर्यटन व्यसाय पूर्ण रूप से चैपट हो चुका है। इस कारोबार से जुड़े बहुत सारे लोग बेरोजगार हो गए हैं। कुंभ से पर्यटन व्यवसायियों को बहुत अपेक्षा थी कि कुंभ में अच्छा कारोबार होगा। लेकिन कठोर एसओपी के चलते निराशा ही हाथ लगी है। यदि चारधाम यात्रा पर भी इसी प्रकार अंकुश लगाया गया तो पर्यटन व्यवसायियों के सामने भूखो मरने की नौबत आ जाएगी और बैक लोन की किस्तें व टैक्स चुकाना भी मुश्किल हो जाएगा। कुंभ के बाद व्यवसायियों को चारधाम यात्रा से ही उम्मीदें हैं। बैठक में तय किया गया कि सभी संगठन मिलकर विरोध प्रदर्शन के जरिए अपनी आवाज सरकार तक पहुंचाएंगे। बैठक में गिरीश भाटिया, दीपक भल्ला, अंजीत कुमार, अर्जुन सैनी, अरविंद खनेजा, अवतार, गुरप्रीत, दीपक उपाध्याय, अजय डबराल, संजय शर्मा, सोनिक मेहता, मनीष श्रीवास्तव, परीक्षित जोशी, सतीश, राज आनंद, रवि मिश्रा आदि शामिल रहे।


Comments