श्रीनिरंजनी अखाड़े ने की कुम्भ मेला समापना की घोषणा

 

हरिद्वार। मनोज खन्ना- कुम्भ मेला के मुख्य शाही स्नान के समापन होने के साथ ही मेला क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामले को देखते हुए सन्यासियों के बड़े अखाड़ो में से एक श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा एवं श्रीआनंद अखाड़े ने कुम्भ मेले के समापन की घोषणा कर दी है। गुरूवार को अखाड़ा में आयोजित महामण्डलेश्वर के पटट्ाभिषेक कार्यक्रम के बाद अखाड़े की ओर से समापन की घोषणा की गयी। अखाड़े के सचिव एवं मां मनसा देवी ट्रस्ट के अध्यक्ष रविंद्र पुरी महाराज ने कुंभ मेले के समापन की घोषणा कर दी है, उन्होंने कहा कि मुख्य शाही स्नान संपन्न हो गया है उसके बाद अखाड़ों में बड़ी संख्या में संत और भक्तों में कोरोना के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हमारे अखाड़े ने 17 अप्रैल को कुम्भ समाप्त करने का निर्णय लिया है, उन्होंने कहा कि यह अखाड़ा परिषद का फैसला नहीं है यह हमारे अखाड़े का निजी फैसला है, अधिकतर अखाड़ों की यही राय है हमने अपने अखाड़े में कुम्भ समापन की घोषणा कर दी है। इससे पहले अखाड़े में पहले से तय कार्यक्रम के अनुसार स्वामी राघवेन्द्रानंद भारती और माँ अन्नपूर्णा भारती का महामंडलेश्वर पद पर हुआ पट्टाभिषेक। इस दौरान अखाड़े के पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद जी महाराज,आनंद पीठाधीश्वर स्वामी  बालकानंद गिरि जी महाराज सहित कई अन्य संत मौजूद रहे। 


Comments