कुम्भ मेला के पहले दिन सन्यासी अखाड़ो सहित दस अखाड़ो को भूमि आवंटित

 

हरिद्वार। अखाड़ा परिषद की लगातार माॅग के बाद कुम्भ मेला प्रशासन ने जमीन आवंटित कर दी है। मेला काल आरम्भ होने के पहले दिन आखिरकार मेला प्रशासन की ओर से सात सन्यासी अखाड़ों सहित दस अखाड़ो को कुम्भ मेला के लिए जमीन आवंटित कर दी है। जमीन आवटित किये जाने के बाद अखाड़ा परिषद अध्यक्ष एवं महामंत्री ने मुख्यमंत्री एवं मेला अधिकारी का आभार जताया है। जमीन आवंटन होने के बाद अखाड़ो के प्रतिनिधियों व मेला प्रशासन के अधिकारियों ने गंगा जी की पूजा अर्चना की। वही बैरागी अखाड़ो के संतो द्वारा अपर मेलाधिकारी के साथ कथित मारपीट के मामले पर चिन्ता जाहिर करते हुए अखाड़ा परिषद के मेला काल के लिए संतो की एक समिति गठित करने का निर्णय भी लिया है। बताते चले कि पिछले कई दिनों के सात सन्यासी अखाड़ो के साथ साथ उदासीन एवं निर्मल अखाड़ो द्वारा सरकार से कुम्भ मेला के लिए जमीन आवंटन की माॅग की जा रही थी, इस मामले में कुम्भ मेला के पहले दिन आखिरकार मेला प्रशासन ने सात सन्यासी अखाड़ो के अलावा बड़ा अखाड़ा उदासीन,नया अखाड़ा उदासीन तथा निर्मल अखाड़ा को नीलधारा टापू एवं गौरीशंकर द्वीप में जमीन आवंटित कर दी है। इस सम्बन्ध में मेला प्रशासन के अधिकारियों ने अखाड़ा के प्रतिनिधियों को स्वीकृति पत्र सौप दिया। इसके साथ ही सन्यासी अखाड़ों को भू-समाधि के लिए भू-खण्ड आवंटित किये जाने सम्बन्धी पत्र भी सौप दिया। गुरूवार दोपहर बाद अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि,महांमंत्री व जूना अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरि,महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविन्द्रपुरी,श्रीनिरजनी अखाड़े के सचिव व मंशादेवी मन्दिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रविन्द्रपुरी के साथ मेलाधिकारी दीपक रावत तथा अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह ने नीलघारा टापू व गौरीशंकर द्वीप पहुचकर जमीन का मुआयना किया। अध्यक्ष श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि ने जमीन आवंटित किये जाने पर मुख्यमंत्री एवं मेलाधिकारी का आभार जताया। महामंत्री श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि ने जमीन आवंटन के निर्णय को सही बताते हुए कहा कि मेलाकाल प्रारम्भ होने के पहले दिन अखाड़ों को जमीन आंवटित कर शासन ने कुम्भ मेला को सफल एवं भव्य बनाने की दिशा में पहली बार ठोस कदम बढ़ाया है। उन्होने कहा कि अब मेला निश्चित तौर पर दिव्य और भव्य होगा। इसके बाद अध्यक्ष महामंत्री के साथ सभी अखाड़ो के प्रतिनिधियों के साथ मेला प्रशासन के अधिकारियों ने  गंगा की पूजा अर्चना कर कुम्भ मेला के सकुशल होने की कामना की। दूसरी ओर अपर मेलाधिकारी के साथ बैरागी संतो द्वारा मारपीट एवं बदतमीजी किये जाने के मामले में अखाड़ा परिषद ने संतो की एक समिति गठित करने का फेसला किया है,समिति में सभी अखाड़ो के प्रतिनिधि शामिल होगे। समिति अपर मेलाधिकारी के साथ मारपीट के मामलो की जांच करने के साथ साथ कारणों का पता लगायेगा। के इन अखाड़ो के प्रतिनिधियों की एक समिति गठित करने का निर्णय लिया गया ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके। साथ ही बैरागी संतो द्वारा अभद्र व्यवहार करने के कारणों को मालूम किया जा सके।


Comments