साइबर ठगी के मामले में साइबर सैल द्वारा होल्ड करायी रू 117800रूपये

 साइबर क्राइम सेल की तत्परता से साइबर ठग खुद गया ठगा

हरिद्वार। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवुदई कृष्णराज एस. के निर्देश पर साईबर सेल  निरीक्षक सुन्दरम शर्मा द्वारा साइबर ठगी की सूचना पर त्वरित कारवाई जारी है। साइबर सेल हरिद्वार को सागर कुमार निवासी ज्वालापुर द्वारा लिखित प्रार्थना पत्र दिया कि एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा फेसबुक के माध्यम से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी गई। जिसके द्वारा बताया गया कि वह आवेदक के लिए गिफ्ट भेजना चाहता है तथा कस्टम क्यिलरेंस के नाम पर आवेदक से अपने खाते में पैसे ट्रांसफर करने हेतु कहा गया। पीड़ित सागर कुमार ने ठग की बातों पर विश्वास कर कुल धनराशि 117800 ठगों के द्वारा बताये गए खाते में ट्रांसफर कर दिये गए। बाद में ठगी का एहसास होने पर उसने साइबर सेल को लिखित सूचना दी,सागर की सूचना पर पुलिस अधीक्षक अपराध पी0के0 राय, नोडल अधिकारी साईबर क्राईम,पुलिस उपाधीक्षक साईबर, डा०पूर्णिमा गर्ग के नेतृत्व में ’साईबर सैल जनपद हरिद्वार द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए आवेदक से लेन-देन का पूर्ण विवरण प्राप्त किया गया, जिससे ज्ञात हुआ कि आवेदक के द्वारा कोटक महिन्द्रा बैंक खाते में ट्रांसफर किये गए हैं। जिस सम्बन्ध में कोटक महिन्द्रा बैंक के नोडल अधिकारी के साथ त्वरित संपर्क करते हुए साइबर क्राइम सेल हरिद्वार के द्वारा उपरोक्त बैंक खाते में आवेदक के खाते से ठगी गई तथा अन्य पीडितों की कुल ठगी गई आर 264020 धनराशि को तत्काल होल्ड करवा दिया गया है। उक्त प्रकरण के सम्बन्ध में कोतवाली ज्वालापुर पर अभियोग पंजीकृत किया जा चुका है। शिकायतकर्ता सागर कुमार के द्वारा साइबर सैल के उक्त कार्य की भूरि भूरि प्रशंसा करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया गया।आवेदक द्वारा आमजनमानस को भी जागरूक करने हेतु संदेश दिया है। साइबर सेल ने आम लोगों से अपील करते हुए कहा है कि फेसबुक इंस्टाग्राम ट्विटर व्हाट्सएप पर किसी भी व्यक्ति की सत्यता को जाने बिना मात्र फ्रेंड लिस्ट को ज्यादा करने के उद्देश्य से किसी भी व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार कतई ना करें। अपने सोशल मीडिया अकाउंट के पासवर्ड को कभी भी अपना मोबाइल नंबर जन्मतिथि इत्यादि कमजोर पासवर्ड ना बनाएं। किसी अनजान व्यक्ति के द्वारा इमरजेंसी के नाम पर पैसों की मांग करने पर किसी के खाते में धनराशि को जमा ना करें। मामले में त्वरित कारवाई करने वालों में निरीक्षक सुंदरम शर्मा कांस्टेबल शक्ति सिंह गुसाईकांस्टेबल अरुण कुमार शामिल रहे।


Comments