जिले के 25 केंद्रों पर फिलहाल अगले आदेशों तक वैक्सीनेशन बंद

 हरिद्वार। सरकार कोरोना टीकाकरण को लेकर भले ही दावा पर दावा कर रहे हो,लेकिन जनपद में कोरोना के कहर के बीच वैक्सीनेशन पर संकट गहरा गया है। वैक्सीन की कमी को देखते हुए जिले के 25 केंद्रों पर फिलहाल अगले आदेशों तक वैक्सीनेशन बंद कर दिया गया है। यदि प्रदेश सरकार की ओर से हरिद्वार जिले के लिए वैक्सीन का स्टॉक नहीं भेजा गया तो सोमवार से जिले में वैक्सीनेशन अभियान पर ब्रेक लग जाएगा। जिले के पास अब महज 2800 वैक्सीन डोज शेष बची थीं। जिस समय लोगों को कोरोना वैक्सीन की सबसे ज्यादा जरूरत है। जिस समय कोरोना से सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हो रहे हैं, जिस समय मौत का आंकड़ा सबको दहला रहा है, ऐसे विकट समय में वैक्सीनेशन पर संकटर गहरा गया है। अभी तक जिले के 65 वैक्सीनेशन केंद्रों पर रोजाना करीब 4500 लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही थी। 1 मई से 18 वर्ष से ऊपर के युवाओं को वैक्शीन लगाई जानी थी जिसके लिए सरकार को इससे पहले ही वैक्सीन का स्टॉक जिले को उपलब्ध कराना चाहिए था। हैरानी की बात है कि अब जिले के पास महज आधे दिन की ही वैक्सीन स्टॉक शेष है। शासन की ओर से अभी तक नया कोटा न तो आवंटित किया है और न ही अभी कोई उम्मीद नजर आ रही है। जिले के पास सिर्फ आधे दिन तक वेक्सीनेशन करने के लिए सिर्फ 2800 वैक्सीन बची हैं। अभी तक बीते 10 दिनों से जिले के 65 वैक्सीनेशन केंद्र संचालित किए जा रहे थे लेकिन लगातार होती वैक्सीन की कमी के बाद 25 केंद्रों को फिलहाल अगले आदेशों तक बंद कर दिया गया है। 


Comments