फाॅरच्यूनर चोरी करने वाले गिरोह के दो सदस्य हरियाणा से गिरफ््तार

चोरी की कार खरीदने वाला कबाड़ी भी दबोचा

हरिद्वार। फाॅरच्यूनर कार चोरी के मामले की जांच में जुटी नगर कोतवाली पुलिस ने अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश करते हुए हरियाणा से गिरोह के दो सदस्यों व चुरायी गयी कार खरीदने वाले कबाड़ी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की निशानदेही पर कबाड़ी के गोदाम से कार भी बरामद कर ली गयी। एसएसआई नंदकिशोर ग्वाड़ी ने बताया कि बीती 29 अप्रैल को देवपुरा निवासी यशदेव कुमार की फाॅरच्यूनर कार अज्ञात चोरों द्वारा चोरी कर ली गयी थी। कार चोरी का मामला दर्ज करने के बाद चोरों की तलाश में लगी पुलिस व सीआईयू टीम ने मुखबिर की सूचना पर जलाल निवासी गाजियाबाद व अजरूद्दीन निवासी मेवात को हरियाणा के सोहना से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि उन्होंने अपने साथी अंकित, नीरज उर्फ अनिरूद्ध निवासी माजरा पियाऊ थाना नारनोंद हिसार हरियाणा व पवन उर्फ पीके तथा संदीप के साथ मिलकर हरिद्वार में कार चोरी की घटना को अंजाम दिया था। चोरी करने के बाद कार को पहले अजरूद्दीन के घर में छिपाकर रखा गया।  सोहना हरियाणा के कल्लू कबाड़ी से साढ़े चार लाख में सौदा तय होने पर कार पर राजस्थान नंबर की प्लेट लगाकर उसके गोदाम में पहुंचा दिया गया। आरोपियों से जानकारी मिलने पर पुलिस टीम ने सोहना में कल्लू कबाड़ी के गोदाम पर छापामारी कर कार बरामद कर ली। कल्लू को भी गिरफ्तार कर लिया गया। एसएसआई नंदकिशोर ग्वाड़ी ने बताया कि अंकित, नीरज, पवन उर्फ पीके तथा संदीप की तलाश की जा रही है। जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि घटना में शामिल सभी आरोपी अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह से जुड़े हैं तथा पहले भी कई बार गिरफ्तार हो चुके हैं। सभी के खिलाफ गैंगस्टर अधिनियम के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस टीम में एसआई पवन डिमरी, कांस्टेबल शशिकांत, बीरेश, दीप गौड़ के अलावा सीआईयू टीम के प्रभारी एसआई रणजीत तोमर, हेडकांस्टेबल सुन्दरलाल, विवेक यादव, अजय, उमेश, नरेंद्र आदि शामिल रहे। 


Comments