कोरोना से लड़ने में सहयोग देने को जयराम आश्रम भी आगे आया

गंगास्वरूप आश्रम बनेगा आइसोलेशन सेंटर

 हरिद्वार। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए अब प्रदेश सरकार को धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं का भी सहयोग मिलने लगा है। मंगलवार को हरिद्वार स्थित श्री जयराम आश्रम की ओर से प्रदेश सरकार को कोविड-19 से लड़ने के लिए आश्रम परिसर को आइसोलेशन सेंटर के रूप में उपयोग करने की घोषणा कर दी। मंगलवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जयराम आश्रम के परमाध्यक्ष स्वामी ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी के साथ भेंटवार्ता की। इस दौरान वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए विभिन्न संस्थाओं से आगे आने का आहवान किया। इसी के मददे्नजर जयराम परमाध्यक्ष ने गंगास्वरूप आश्रम को आइसोलेशन संेटर बनाने के लिए देने की घोषणा की। प्रदेश में कोरोना के मामले लगातार नए नए रिकॉर्ड बना रहै है ऐसे में हॉस्पिटलों में जगह कम पड़ रही है जिसके बाद शासन-प्रशासन होटल धर्मशालाओ को कोविड आइसोलेशन के रूप में उपयोग कर रहा है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने श्रीजयराम आश्रम के परमाध्यक्ष ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी से मुलाकात की। जिसमे उन्होंने ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी से उनके गंगा स्वरूप आश्रम को कोविड आइसोलेशन सेंटर के रूप में उपयोग किये जाने की मांग की जिसको स्वामी ब्रह्मस्वरूप ने सहर्ष स्वीकार कर लिया और कहा कि सरकार कोविड सेंटर को एम्स के डॉक्टरों की निगरानी में चलाए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि श्रीजयराम आश्रम इनके लिए आर्थिक सहायता भी देगा।


Comments