पतंजलि के पास विश्वस्तरीय मजबूत सप्लाई चेनः आचार्य

 औद्योगिक विकास मंत्री ने पतंजलि योगपीठ के प्रति जताई कृतज्ञता

हरिद्वार। औद्योगिक विकास, लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गणेश जोशी ने गुरूवार को पतंजलि पहुचकर वहां आचार्य बालकृष्ण के साथ के आयुर्वेद अनुसंधान को लेकर उनकी गहन वार्ता की । पतंजलि पहुँचने पर कैबिनेट मंत्री का भव्य स्वागत किया गया। कोरोना के प्रकोप को दृष्टिगत रखते हुए श्री जोशी प्रदेश में फार्मा क्षेत्र की औद्योगिक गतिविधियों का अवलोकन करने हेतु दौरे पर हैं। इस अवसर पर श्री जोशी ने कहा कि कोरोना महामारी के इस कालखण्ड में पतंजलि की सेवापरक गतिविधियाँ निरंतर जारी हैं। चाहे कोरोना को लेकर आयुर्वेद अनुसंधान के रूप में श्वासारी कोरोनिल किट की बात हो या हरिद्वार स्थित बेस हॉस्पिटल के सफल संचालन का विषय या आपदा की घड़ी में असहाय व जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क औषधि वितरण, इस आपदा काल में पतंजलि ने हर प्रकार से अपनी सहभागिता दर्ज की है। उन्होंने पतंजलि की सेवापरक गतिविधियों के लिए पतंजलि योगपीठ के प्रति कृतज्ञ दोहराई। इस अवसर पर आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि पतंजलि ने कोरोनाकाल में अपनी आयुर्वेदिक अनुसंधानात्मक गतिविधियों तथा आयुर्वेदिक औषधियों की उत्पादक क्षमता का विस्तार किया है। उन्होंने कहा कि पतंजलि के पास एक विश्वस्तरीय मजबूत सप्लाई चेन है। हमने प्रयास किया है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को पतंजलि की गुणवत्तायुक्त औषधियाँ एफएमसीजी उत्पाद व आवश्यक वस्तुएँ जरूरतमंदों तक पहुँचा सकें। इसमें आर्डर-मी एप की भी बहुत बड़ी भूमिका है। उन्होंने देश के आर्थिक सम्पन्न व्यक्तियों तथा संस्थानों से आह्नान किया कि आपदा की इस घड़ी में आगे आएँ तथा जिस किसी माध्यम से संभव हो पीडित मानवता की सहायता करें। हमें परमात्मा का धन्यवाद करना चाहिए कि हम किसी पीडित की सहायता करने हेतु सक्षम हैं। आचार्य ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में हम देशवासियों के साथ हैं।


Comments