वेब सीरिज रामयुग के निर्माता निर्देशक पर कार्रवाई की मांग

 

हरिद्वार। श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने सदस्य टीएसी बीएसएनएल अधिवक्ता अरविन्द कुमार श्रीवास्तव के माध्यम से केंद्रीय संचार व कानून मंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर वेब सीरिज रामयुग पर बैन लगाने तथा निर्माता निर्देशक, कलाकारों के खिलाफ मुकद्मा दर्ज करने की मांग की है। इस दौरान पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि वेब सीरिज के पहले एपिसोड में ही लक्ष्मण, परशुराम व श्रीराम के संवाद को भ्रमित तरीके से प्रस्तुत कर सनातन धर्म के आराध्य श्रीराम, माता सीता व भगवान परशुराम का अपमान किया गया है। फिल्म में सनातन धर्म के पवित्र ग्रंथ रामायण की भ्रमित व्याख्या कर रामायण का भी अपमान किया गया है। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि सनातन धर्म का अपमान कतई सहन नहीं किया जाएगा। सरकार तत्काल वेब सीरिज के प्रसारण पर रोक लगाए तथा निर्माता, निर्देशक व कलाकारों के खिलाफ मुकद्मा दर्ज करे। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि वेब सीरिज के माध्यम से सनातन हिन्दू धर्म का अपमान करने वाले निर्माता, निर्देशक व कलाकारों के खिलाफ सख्त वैधानिक कार्यवाही करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सनातन हिंदू धर्म को अपमानित करने की बार बार कोशिशें की जा रही है। सरकार को इस तरह की कोशिशों पर रोक लगाने के लिए कठोर कानून लागू कर कड़ी सजा का प्रावधान करना चाहिए। ज्ञापन की प्रति जिला अधिकारी, एसएसपी, कोतवाली ज्वालापुर प्रभारी को भी प्रेषित कर निर्माता निर्देशक के खिलाफ मुकद्मा दर्ज करने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में रूद्रनन्द सरस्वती महाराज, शीतल प्रसाद भी शामिल रहे।


Comments