उत्तराखंड में तेजी से ब्लैक फंगस पैर पसार रहा है -गणेश जोशी

 हरिद्वार। उत्तराखंड में तेजी से पैर पसार रही ब्लैक फंगस बीमारी के इलाज में इस्तेमाल किये जाने वाले इंजेक्शन की कमी अब दूर हो सकती है। उत्तराखंड सरकार ब्लैक फंगस के इलाज में जरूरी एम्फिटेरिसिन नामक इंजेक्शन का राज्य के मरीजो के लिए इंतेजाम कर लिया है। उत्तराखंड सरकार के मंत्री गणेश जोशी के अनुसार राज्य में आज एम्फिटेरिसिन इंजेक्शन की पहली खेप पंहुच जाएगी जिससे राज्य में इस इंजेक्शन की किल्लत दूर हो जाएगी। वे आज देर शाम निरंजनी पंचायती अखाड़े में महंत श्री रविंद्रपुरी महाराज से आशीर्वाद लेने के बाद  पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने राज्य में ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए कहा कि ब्लेक फंगस का अन्य दूसरे मरीजो तक इंफेक्शन न हो इसके लिए ब्लैक फंगस के मामले को एक ही जगह रखकर इलाज करने के निर्देश भी दिए गए है। कोरोना के अब नवजात बच्चों में फैलने से विशेषज्ञ राज्य कोरोना की तीसरी लहर  बच्चों के बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित होने को लेकर प्रदेश सरकार भी चिंतित है। कोरोना की चपेट शुरू होने की आशंका जता रहे है।  मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि राज्य में डीआरडीओ द्वारा नाबाये जा रहे 500- 500 बीएड के 2 कोविड हॉस्पिटल में 25 प्रतिशत बैड बच्चजो के लिए आरक्षित करने के निर्देश दिए गए है। उन्होंने बताया कि सभी हॉस्पिटल्स और स्वास्थ्य केंद्रों को बच्चों के इलाज में इस्तेमाल होने वाले लिए ऑक्सीजन कैप आदि के समुचित इंतेजाम करने के आदेश भी दिए गए है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।  


Comments