बैष्णव अखाड़ों के संतो ने गन्ना राज्यमंत्री से भेंटकर की भूमि लीज पर प्रदान करने की मांग

 मामले पर जल्द ही वार्ता कर समस्या का समाधान किया जाएगा-स्वामी यतिश्वरानंद

हरिद्वार। अखिल भारतीय वैष्णव अखाड़ा परिषद के संतो ने राज्यमंत्री स्वामी यतिश्वरानंद महाराज से गाजी वाली श्यामपुर स्थित उनके आवास पर भेंट वार्ता की। इस दौरान बैरागी कैंप क्षेत्र में तीनों वैष्णव अनी अखाड़ों के संत निवास एवं हनुमान मंदिर बनाए जाने को लेकर विस्तृत रूप से चर्चा की गई। चर्चा के दौरान अखिल भारतीय श्री पंच निर्मोही अनी अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत राजेंद्र दास महाराज ने कहा कि जल्द ही बैरागी कैंप में तीनों वैष्णव अनी अखाड़ों को लीज पर भूमि प्रदान की जाए। इसके लिए मुख्यमंत्री से मिलकर समस्या का समाधान किया जाएगा। प्राचीन काल से ही बैरागी संतों के शिविर बैरागी कैंप क्षेत्र में लगते चले आए हैं। इसलिए आगामी कुंभ मेलों में बैरागी संतो को दिक्कतों का सामना ना करना पड़।े इसके लिए जल्द ही नहीं रूपरेखा तैयार की जाएगी। अखिल भारतीय श्रीपंच निर्वाणी अनी अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत धर्मदास महाराज एवं अखिल भारतीय श्रीपंच दिगंबर अनी अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत कृष्णदास महाराज ने कहा कि आदि अनादि काल से बैरागी कैंप में वैष्णव संत कुंभ मेला के दौरान शिविर लगाते हैं। लेकिन प्रशासन अथवा सरकार द्वारा अभी तक वैष्णव संतो के लिए स्थाई निवास की सुविधा प्रदान नहीं की गई है। सरकार को वैष्णव संतों का सम्मान करते हुए उनके लिए स्थाई निवास के लिए लीज पर भूमि उपलब्ध करानी चाहिए। जिससे उन्हें भविष्य में किसी प्रकार की कोई दिक्कत का सामना ना करना पड़े। राज्य मंत्री स्वामी यतिश्वरानंद महाराज ने कहा कि धर्म सत्ता एवं राज सत्ता के समन्वय से ही देश उन्नति की ओर अग्रसर हो सकता है। संतो ने सदैव ही धर्म एवं संस्कृति की रक्षा के लिए अग्रणी भूमिका निभाई है। सरकार के साथ बैरागी कैंप में वैष्णव संतो के स्थाई निवास के लिए जल्द ही वार्ता कर समस्या का समाधान किया जाएगा। ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की कोई बाधा उत्पन्न ना हो। इस दौरान महंत मोहनदास खाकी, महंत रामजी दास, महंत नरेंद्र दास, महंत महेश दास, महंत बिहारी शरण दास, महंत रघुवीर दास, महंत पे्रमदास, महंत मनीष दास, महंत सुखदेव दास, महंत अंकित शरण दास, भाजपा नेता अनिल अरोड़ा, ओमकार जैन आदि मौजूद रहे।


Comments