हिन्दू रक्षा सेना ने मुख्यमंत्री से मिलकर की चारधाम यात्रा खोले जाने की मांग

 

हरिद्वार। हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महामण्डलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरी महाराज ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से उनके आवास पर वार्ता कर चारधाम यात्रा खोले जाने की मांग की। भेंटवार्ता के दौरान महामण्डलेवर स्वामी प्रबोधानंद गिरी महाराज ने मुख्यमंत्री के समक्ष विचार रखते हुए कहा कि दो वर्षो से लगातार कोरोना के चलते धार्मिक क्रियाकलापों के साथ साथ व्यापार चैपट हो गया है। जिससे व्यापारियों व व्यवसायियों के समक्ष अनेकों प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो गयी हैं। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा पूरी तरह तीर्थाटन पर निर्भर है। देश दुनिया से तीर्थ यात्री चारधाम यात्रा में शामिल होने आते हैं। केंद्र व राज्य के दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित करते हुए चारधाम यात्रा को जनहित में प्रारंभ करना चाहिए। राज्य की सरकार पर संसाधन हैं। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के उपायों को लागू कराते हुए चारधाम यात्रा प्रारंभ की जाए। चारधाम यात्रा पर लाखों ट्रैवल्स व्यवसायियों का रोजगार निर्भर रहता है। दो वर्षो से ट्रैवल्स व्यवसायी भी तंगी का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मठ मंदिर आश्रम अखाड़ों से धार्मिक क्रियाकलाप संचालित होते हैं। देश दुनिया में सनातन संस्कृति का प्रचार प्रसार भी होता है। ऐसे में संपूर्ण रोक रोक लगाए जाने से धार्मिक क्रियाकलाप भी प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि धार्मिक मान्यताओं एवं भक्तों की मान्यताओं का सम्मान करते हुए चारधाम यात्रा प्रारम्भ की जाए। जिससे लोगों को राहत मिल सके। उन्होंने कुंभ मेला सकुशल संपन्न कराने पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कोरोना के केस धीरे धीरे कम हो रहे हैं। जैसे-जैसे केस कम होंगे सरकार लोगों को राहत देगी। स्थिति नियंत्रण में आने पर चारधाम यात्रा का संचालन भी किया जाएगा। 


Comments