मेडिकल कालेज निर्माण में पार्टी व मेयर के योगदान सम्बन्धी श्रेय जनता तक पहुचाये-उपेन्द्र कुमार

 पार्टी को गति देने के लिए युवा कार्यकारी अध्यक्ष बनाने की मांग

हरिद्वार। उषा ब्रेको की लीज बढ़ाए जाने के मुद्दे पर पार्टी नेतृत्व को पत्र लिखकर कांग्रेस की राजनीति में हलचल मचाने वाले नगर निगम बोर्ड के पूर्व नेता प्रतिपक्ष व पूर्व कांग्रेस पार्षद उपेंद्र कुमार ने एक बार फिर प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह को पत्र लिखा है। पत्र में जगजीतपुर में मेडिकल कालेज व अस्पताल निर्माण के लिए मेयर अनिता शर्मा की पहल पर भूमि उपलब्ध कराने का कोई श्रेय लेने का प्रयास स्थानीय कांग्रेस संगठन द्वारा नहीं किए जाने पर चिंता व्यक्त करते हुए उपेंद्र कुमार ने कहा है कि करोड़ों की लागत से बनने वाला मेडिकल कालेज व अस्पताल विधानसभा चुनाव में एक बड़ा मुद्दा होगा। इसे देखते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व उनकी टीम इसका एकतरफा राजनीतिक लाभ उठाने तथा चुनाव में बढ़त बनाने के लिए अभियान चला रहे हैं। जबकि सच्चाई यह है कि नगर निगम के स्वामित्व वाली जिस जमीन पर मेडिकल कालेज व अस्पताल बनना है। वह भूमि मेयर अनिता शर्मा की पहल पर उपलब्ध करायी गयी है। इसलिए मेडिकल कालेज व अस्पताल निर्माण का पूरा श्रेय उन्हें व कांग्रेस पार्टी को जाता है। लेकिन स्थानीय नेताओं की इस मुद्दे पर चुप्पी के चलते पार्टी इसका लाभ नहीं उठा पा रही है। केवल मेयर व कुछ पार्षद ही सोशल मीडिया पर इस मुद्दे पर मोर्चा संभाल रहे हैं। स्थानीय कांग्रेस संगठन और पदाधिकारी आश्चर्यजनक रूप से मौन साधे हुए हैं और इस मुद्दे की गंभीरता को समझ नहीं पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में स्थानीय संगठन के साथ जनपद के सभी कांग्रेस विधायक, चुनावों में प्रत्याशी रहे नेताओं व प्रदेश स्तरीय पदाधिकारियों की एक टीम बनाकर अस्पताल निर्माण में कांग्रेस पार्टी व मेयर अनिता शर्मा के योगदान को जनता के समक्ष रखना चाहिए। जनता को सच्चाई से अवगत कराने के लिए व्यवस्थित व आक्रामक तरीके से अभियान चलाना चाहिए। जिससे अगले वर्ष होने वाले चुनावों में पार्टी को इसका लाभ मिल सके। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के अलावा पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत व प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव को भी भेजे गए पत्र में उपेंद्र कुमार ने युवा वर्ग को पार्टी में अधिक जिम्मेदारी दिए जाने व वरिष्ठ नेताओं के अनुभव का लाभ उठाने की मांग भी की है। युवा वर्ग को अधिक संख्या में पार्टी से जोड़ने के लिए किसी युवा को कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया जाना चाहिए। विधानसभा चुनावों को देखते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को भी सक्रिय किया जाना चाहिए। 


Comments