चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य ने दी सीएमओं कार्यालय घेराव की चेतावनी

 हरिद्वार। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा ने कहा कि महिला चिकित्सालय के कर्मचारियों के आवास तोड़े जाने के बाद अब तक भी कर्मचारियों को आवास आवंटित नहीं किये गए हैं। आवास तोड़कर कर्मचारियों को बाहर कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर चिकित्सकों के आवास नहीं तोड़े गए। इस तरह कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार किये जाने को लेकर कर्मचारियों में आक्रोश है। संघ ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी, महानिदेशक, चिकित्सा स्वास्थ्य, जिलाधिकारी हरिद्वार को एक ज्ञापन भेजा है। लखेड़ा ने कहा कि आवास तोड़े जाने के नोटिस मिलने पर कर्मचारियों और संघ ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी हरिद्वार से अनुरोध किया था कि इन कर्मचारियों को मेला चिकित्सालय परिसर में जो कर्मचारी स्थानांतरित और सेवानिवृत्त हो गए हैं उनमें शिफ्ट करा दिया जाए। आवास टूटने के बाद भी कर्मचारी आवास के प्रार्थना पत्र को लेकर घूम रहे हैं। जिलाध्यक्ष शिवनारायण सिंह व जिला मंत्री राकेश भंवर ने कहा कि संघ की मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कई मांगों को लेकर वार्ता की गई है। जिसमे वर्दी, एसीपी का लाभ, चिकित्सा प्रतिपूर्ति, कर्मचारियों को आवास आवंटन, वेतन विसंगति, यात्रा भत्ता आदि मांगों पर वार्ता हो चुकी है। लेकिन आश्वासन के अलावा बैठकों का कोई नतीजा नहीं निकल रहा है। मांगे न मानने पर संघ नेताओं ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी का घेराव करने की चेतावनी दी है।


Comments