भाजपा पार्षदों ने की नगर आयुक्त से मिलकर व्यवसायिक गृहकर माफ करने की मांग

 

हरिद्वार। शहर में कोरोना महामारी के कारण पिछले एक वर्ष से अधिक समय से व्यापारी वर्ग परेशान है। कोरोना महामारी के चलते पिछले 1 वर्ष में अगर किसी को सबसे ज्यादा मार पड़ी है तो वह व्यापारी वर्ग है। लॉकडाउन और कोरोना कर्फ्यू के कारण व्यवसायियों की आर्थिक स्थिति खराब हो चली है। हरिद्वार में पिछले काफी दिनों से हरिद्वार का व्यवसाय सरकार से कोरोना कर्फ्यू में राहत दिए जाने की मांग कर रहा है, तो वही गुरूवार को हरिद्वार नगर निगम के भाजपा पार्षद सुनील अग्रवाल(गुड्डू) के नेतृत्व में नगर आयुक्त से मिल कर निगम क्षेत्र के व्यवसाइयों से नगर निगम द्वारा लिए जाने वाला व्यावसायिक गृहकर माफ किये जाने की मांग की। कोरोना काल मे लॉक डॉउन ओर कर्फ्यू के कारण त्रस्त व्यवसाइयों द्वारा प्रदेश सरकार से लगातार कोरोना कर्फ्यू में राहत दिये जाने की मांग की जा रहे है तो इसी बीच हरिद्वार नगर निगम के भाजपा पार्षद सुनील अग्रवाल के नेतृत्व में नगर आयुक्त से मिले जहाँ उन्होंने नगर निगम क्षेत्र के भीतर आने वाले व्यवसायिक प्रतिष्ठानों का पिछले 1 वर्ष का व्यावसायिक गृह कर्ज माफ किए जाने की मांग करी। उनका कहना था कि कोरोना काल की महामारी हमें व्यवसायियों के आर्थिक नुकसान को देखते हुए नगर निगम हरिद्वार के अंतर्गत आने वाले व्यवसायियों का पिछले 1 वर्ष का कमर्शियल कर माफ कर दिया जाए इस संबंध में उन्होंने नगर आयुक्त कि 1 हफ्ते के भीतर बोर्ड बैठक बुलाकर इस पर निर्णय लिया जाए।


Comments