मांगो को लेकर परिसर निदेशक से हुई वार्ता,निराकरण का दिया आश्वासन

 हरिद्वार। चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं उत्तराखंड और संयुक्त संघर्ष समिति ऋषिकुल के साथ कर्मचारियों की मांगों के निराकरण के लिए परिसर निदेशक से लगभग एक घंटा वार्ता हुई। बुधवार को कर्मचारी नेताओं ने ऋषिकुल आयुर्वेदिक विश्विद्यालय के परिसर निदेशक डॉ अनूप गक्खड़ के साथ द्विपक्षीय वार्ता की। एनाटॉमी हाल में आयोजित इस बैठक में निदेशक द्वारा आश्वासन दिया गया कि कर्मचारियों की मांगों के निस्तारण के लिए वे अपने स्तर से कुलसचिव से वार्ता करेंगे। बैठक में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को एसीपी का लाभ तत्काल देने, तीन साल से ऊपर काम कर चुके कर्मियों को एरियर दिलाने, रामपाल का दो साल पुराना एरियर के भुगतान की कार्रावाई शुरु करने और सुमंत पाल के नियमितीकरण की मांग पर चर्चा की गई। इसके अलावा शासनादेश अनुसार कर्मचारियों को आवास आवंटन और बाहर किए गए 5 कर्मचारियों काम पर रखने समेत चिकित्सा प्रतिपूर्ति बिलों का भुगतान, कर्मचारियों के परिवार का वेक्सीनेशन व अन्य मांगों पर भी चर्चा की गई। प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा ने बताया कि इन सभी मांगो को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। उनके द्वारा आश्वासन दिया गया। लेकिन आश्वासन के बाद भी कार्रवाई नहीं होती तो फिर आंदोलन किया जाएगा। उपशाखा अध्यक्ष छत्रपाल सिंह, जयनारायण सिंह, संघर्ष समिति के सचिव, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष शिवनारायण सिंह, संयोजक केएन भट्ट, जिला मंत्री राकेश भंवर आदि मौजूद रहे।


Comments