Skip to main content

17 को पचार हजार लोगों का होगा कोरोना वैक्सीन टीकाकरण

 


हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 टीकाकरण की लक्ष्य प्राप्ति के संबंध मंे बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 एस0के0झा ने बताया कि 17 सितम्बर को वृहद टीकाकरण की योजना के तहत जनपद के लिए 50 हजार टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने यह भी बताया कि हमने इधर एक महीने के दौरान लगभग 6 लाख लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया है, जिसमें सभी का भरपूर सहयोग मिला। उन्होंने यह भी बताया कि जनपद के हर ब्लाॅक के लिए टीकाकरण हेतु अलग-अलग लक्ष्य रखा गया है। हमंे इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए जिस तरह से पोलियो ड्राप पिलाने के लिए तथा चुनाव के लिए तैयारी की जाती है, उसी तरह की तैयारियां करनी हैं। इस अवसर पर बोलते हुए जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने टीकाकरण से जुड़े हुए सभी कार्मिकांे को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस दौरान सभी के विशेष  प्रयासों से भगवानपुर, रूड़की, लक्सर आदि में टीकाकरण की गति काफी तेज रही। बैठक में स्वास्थ विभाग के अधिकारियों ने जिलाधिकारी को विभिन्न ब्लाॅकों में प्रथम डोज एवं द्वितीय डोज लगवा चुके एवं ऐसे लोग, जिन्होंने अभी तक प्रथम डोज अथवा द्वितीय डोज नहीं लगवायी है, के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि हरिद्वार में कोविड-19 वैक्सीन की प्रथम डोज 96 प्रतिशत तथा रूड़की में 91 प्रतिशत लोगों को दी जा चुकी है।  जिलाधिकारी ने कहा कि 17 सितम्बर के टीकाकरण अभियान के लिए हमें माइक्रो प्लानिंग करनी होगी। बाॅर्डर पर हमें सतर्कता बरतनी होगी, बार्डर पर वैक्सीनेशन एवं टेस्टिंग के लिए टीमें तैनात की जाएगी। औद्योगिक क्षेत्र का जिक्र करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि उद्योगों मंे काम करने वाले जिन कार्मिकों को पहली डोज लग गयी है तथा उनकी दूसरी डोज लगने की बारी आ गयी है, वह अपनी दूसरी डोज लगाना सुनिश्चित करें। इस मौके पर जानकारी देते हुए महाप्रबन्धक जिला उद्योग पल्लवी गुप्ता ने बताया कि जनपद मंे 600 उद्योग पंजीकृत हैं, जिनमें लगभग दो लाख कर्मचारी कार्य कर रहे हैं, जिनमें से 90 प्रतिशत कार्मिक वैक्सीन लगा चुके हैं। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि सभी उद्योगों से शत-प्रतिशत वैक्सीन लगाने के सम्बन्ध में प्रमाण पत्र ले लिया जाए। रेडक्रास सचिव डाॅ0 नरेश चैधरी ने बताया कि अगर हमें दस वार्डों के वैक्सीनेशन के लिए जिम्मेदारी सौंपी जाती है, तो हम शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करके देंगे। प्लान इण्डिया के प्रतिनिधि राम कुमार ने भी वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में अपने सुझाव रखे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार ने कहा कि 17 सितम्बर के टीकाकरण अभियान में अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीमों को विशेष ईनाम दिया जाएगा। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन प्यारेलाल शाह, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) बीर सिंह बुद्वियाल, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूड़की अंशुल सिंह, एसडीएम पूरण सिंह राणा, एसडीएम भगवानपुर बृजेश तिवारी, नगर आयुक्त नगर निगम रूड़की श्रीमती नुपुर वर्मा, नगर आयुक्त नगर निगम हरिद्वार दयानन्द सरस्वती, एसपी सिटी श्रीमती कमलेश उपाध्याय, एसीएमओ डाॅ0 एच0डी0 शाक्य, मुख्य उद्यान अधिकारी नरेन्द्र यादव, आर0एम0 सिड़कुल जी0एस0 रावत, जिला कार्यक्रम अधिकारी देव सिंह, जिला युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल अधिकारी वरद जोशी, आपदा प्रबन्धन अधिकारी श्रीमती मीरा कैन्तुरा, डाॅ0 अजय कुमार, डाॅ0 कोमल आदि सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।


Comments

Popular posts from this blog

गौ गंगा कृपा कल्याण महोत्सव का आयोजन किया

  हरिद्वार। कुंभ में पहली बार गौ सेवा संस्थान श्री गोधाम महातीर्थ पथमेड़ा राजस्थान की ओर से गौ महिमा को भारतीय जनमानस में स्थापित करने के लिए वेद लक्ष्णा गो गंगा कृपा कल्याण महोत्सव का आयोजन किया गया है।  महोत्सव का शुभारंभ उत्तराखंड गौ सेवा आयोग उपाध्यक्ष राजेंद्र अंथवाल, गो ऋषि दत्त शरणानंद, गोवत्स राधा कृष्ण, महंत रविंद्रानंद सरस्वती, ब्रह्म स्वरूप ब्रह्मचारी ने किया। महोत्सव के संबध में महंत रविंद्रानंद सरस्वती ने बताया कि इस महोत्सव का उद्देश्य गौ महिमा को भारतीय जनमानस में पुनः स्थापित करना है। गौ माता की रचना सृष्टि की रचना के साथ ही हुई थी, गोमूत्र एंटीबायोटिक होता है जो शरीर में प्रवेश करने वाले सभी प्रकार के हानिकारक विषाणुओ को समाप्त करता है, गो पंचगव्य का प्रयोग करने से शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, शरीर मजबूत होता है रोगों से लड़ने की क्षमता कई गुना बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में वैश्विक महामारी ने सभी को आतंकित किया है। परंतु जिन लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है। कोरोना उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाता है। उन्होंने गो पंचगव्य की विशेषताएं बताते हुए कहा कि वर्तमा

माता पिता की स्मृति में समाजसेवी राकेश विज ने किया अन्न क्षेत्र का शुभारंभ

हरिद्वार। समाजसेवी और हिमाचल प्रदेश प्रदेश के पालमपुर रोटरी क्लब के अध्यक्ष राकेश विज ने बताया कि महाकुंभ के अवसर पर श्रद्धालुओं की सुविधार्थ संत बाहुल्य क्षेत्र सप्त ऋषि आश्रम में अन्न क्षेत्र का शुभारंभ नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी के कर कमलों के द्वारा किया गया है। यह अन्न क्षेत्र पूरे कुंभ तक अनवरत रूप से चलेगा। उन्होंने बताया कि मानवता सबसे बड़ी पूजा है मानव धर्म ही हमें जोड़ता है। अन्नदान की परंपरा हमारी वैदिक परंपरा है। अन्न क्षेत्र का आयोजन उन्होंने अपनी माता त्रिशला रानी और पिता लाला बनारसी दास की स्मृति में कराया है। उन्होंने बताया कि गुरूद्वारा गुरू सिंह सभा में भी 7 मार्च से रोजाना लंगर का आयोजन किया जा रहा है। 14 मार्च से इच्छाधारी नाग मंदिर बीएचएल हरिद्वार में भी अन्न क्षेत्र शुरू किया जाएगा। इसके अलावा कनखल स्थित सती घाट के समीप निर्माणाधीन गुरु अमरदास गुरुद्वारे और एसएमएसडी इंटर कॉलेज में पंडित अमर नाथ की स्मृति में बनने वाले पुस्तकालय में भी सहयोग प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि महापुरुषों के रास्ते पर चलकर ही हम देश को समृद्ध कर सकते है। इस अवसर पर सतपाल

ऋषिकेश मेयर सहित तीन नेताओं को पार्टी ने थमाया नोटिस

 हरिद्वार। भाजपा की ओर से ऋषिकेश मेयर,मण्डल अध्यक्ष सहित तीन नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस जारी किया है। एक सप्ताह के अन्दर नोटिस का जबाव मांगा गया है। भारतीय जनता पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में ऋषिकेश की मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं, ऋषिकेश के मंडल अध्यक्ष दिनेश सती और पौड़ी के पूर्व जिलाध्यक्ष मुकेश रावत को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनबीर सिंह चैहान के अनुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने नोटिस जारी किए हैं। नोटिस में सभी को एक सप्ताह के भीतर अपना स्पष्टीकरण लिखित रूप से प्रदेश अध्यक्ष अथवा महामंत्री को देने को कहा गया है।